यूपी महिला सामर्थ्य योजना 2023: ऑनलाइन आवेदन, एप्लीकेशन फॉर्म, लाभ

UP Mahila Samarthya Yojana 2023 Online Apply | यूपी महिला सामर्थ्य योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करें | महिला सामर्थ्य योजना एप्लीकेशन फॉर्म व पंजीकरण प्रक्रिया, पात्रता एवं लाभ जानें

महिलाओं के कल्याण तथा सशक्तिकरण के लिए सरकार के माध्यम अलग अलग तरह की योजनाएं संचालित की जाती है उत्तर प्रदेश सरकार भी इस तरह की योजनाओं को संचालित करती है तो दोस्तों आज हम आपको ऐसी ही एक योजना से संबंधित जानकारी प्रदान करने जा रहे हैं जिसका नाम यूपी महिला सामर्थ्य योजना 2023 है इस योजना के द्वारा से उत्तर प्रदेश की महिलाओं को रोजगार के प्रति प्रेरित तथा उनके जीवन स्तर को बेहतर बनाने का प्रयास किया जाएगा इस आर्टिकल को पढ़कर आपको यह योजना से संबंधित सभी आवश्यक जानकारी प्राप्त होगी जैसे कि UP Mahila Samarthya Yojana क्या है इसकी हाइलाइट्स, उद्देश्य, लाभ, पात्रता, आवश्यक दस्तावेज, आवेदन प्रक्रिया आदि। तो अगर आप यूपी महिला सामर्थ्य योजना से संबंधित सभी आवश्यक जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको हमारे इस आर्टिकल को अंत तक जरूर पढ़े।

UP Mahila Samarthya Yojana

UP Mahila Samarthya Yojana 2023

यह योजना के द्वारा से प्रदेश की महिलाओं को रोजगार के प्रति प्रेरित किया जाएगा तथा स्थानीय संस्थानों के आधार पर होम एंड कॉटेज उद्योगों के माध्यम से उनके जीवन स्तर में सुधार लाने का प्रयास किया जाएगा इस योजना के अंतर्गत महिलाओं को अपनी उपज को बेचने के लिए सरकार के द्वारा बाजार भी उपलब्ध करवाया जाएगा यूपी महिला सामर्थ्य योजना को सरकार ने यूपी बजट 2021-22 की घोषणा करते हुए 22 फरवरी 2021 को शुरू किया है वित्तीय साल 2021-22 से महिला सामर्थ्य योजना के नाम से नई योजना शुरू की जाएगी इस योजना के लिए सरकार के द्वारा 200 करोड़ रुपए का बजट निर्धारित किया गया है।

यह योजना महिला सशक्तिकरण तथा कल्याण के लिए एक महत्वकांक्षी योजना साबित होगी UP Mahila Samarthya Yojana का कार्यान्वयन दो स्तरीय कमेटी के द्वारा से किया जाएगा एक कमेटी जिला स्तर पर गठित की जाएगी और एक कमेटी राज्य स्तर पर गठित की जाएगी।

उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना

यूपी महिला सामर्थ्य योजना हाइलाइट्स

योजना का नामUP Mahila Samarthya Yojana
किसके द्वारा शुरू की गईउत्तर प्रदेश सरकार के माध्यम
उद्देश्यप्रदेश की महिलाओं को रोजगार के लिए प्रेरित करना
लाभार्थीउत्तर प्रदेश की महिलाएं
साल2023
आधिकारिक वेबसाइटजल्द ही आरंभ की जाएगी

UP Mahila Samarthya Yojana के अंतर्गत 72 करोड़ रुपये से ज्यादा के बजट का किया गया प्रावधान

दोस्तों जैसा कि आप सभी जानते ही हैं कि उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा 26 मई 2022 को अपने दूसरे कार्यकाल का पहला बजट पेश किया गया है बजट की घोषणा के दौरान फाइनेंस मिनिस्टर द्वारा जनता के लिए विभिन्न योजनाओं की घोषणा की गई है उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा प्रदेश के समस्त जनपद स्तर पर साइबर हेल्प डेस्क स्थापित करने का फैसला लिया गया इसके अलावा सरकार द्वारा कई योजनाओं के बजट में बढ़ोतरी करने का भी फैसला लिया गया है।

सरकार के माध्यम से यूपी महिला सामर्थ्य योजना के अंतर्गत 72 करोड़ 50,00,000 रुपए की व्यवस्था प्रस्तावित की गई है इस योजना को महिलाओं के जीवन स्तर को सुधारने के उद्देश्य से आरंभ किया गया है UP Mahila Samarthya Yojana के माध्यम से प्रदेश की महिलाओं को रोजगार प्राप्त करने के लिए मोटिवेट किया जाएगा इसके अलावा होम एंड कॉटेज उद्योगों के माध्यम से उनके जीवन स्तर को सुधारने का प्रयास किया जाएगा।

राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना

यूपी महिला सामर्थ्य योजना की आवश्यकता

प्रदेश में करीब-करीब 90 लाख सूक्ष्म लघु और मध्यम उद्योग है इनमें से 80 लाख से ज्यादा सूक्ष्म इकाइयों में स्थापित है जो कि होम एंड कॉटेज उद्योगों के अंतर्गत संचालित किए जाते हैं इन उद्योगों में महिलाओं के माध्यम संचालित किए जाने वाले उद्यमों की बहुत महत्वपूर्ण भूमिका है इसलिए उत्तर प्रदेश सरकार के माध्यम यूपी महिला सामर्थ्य योजना को आरंभ किया गया है जिससे कि महिला द्वारा संचालित किए जाने वाले उद्योगों का उत्थान किया जा सके सरकार के माध्यम विभिन्न तरह की सुविधाएं प्रदान करके यूपी महिला सामर्थ्य योजना का कार्यान्वयन किया जाएगा इन सुविधाओं को प्रदान करने के लिए सुविधा केंद्र खोले जाएंगे सुविधा केंद्रों पर पैकेजिंग, लेबलिंग, बारकोडिंग आदि जैसी सुविधाएं प्रदान की जाएगी।

UP Mahila Samarthya Yojana Objective (उद्देश्य)

यूपी महिला सामर्थ्य योजना का प्रमुख उद्देश्य है कि महिलाओं का कल्याण तथा सशक्तिकरण करना। इस योजना के द्वारा से महिलाओं को रोजगार के प्रति प्रेरित किया जाएगा UP Mahila Samarthya Yojana के माध्यम से महिला द्वारा संचालित किए जाने वाले उद्यमों का उत्धान किया जाएगा इस योजना के अंतर्गत महिलाओं को अलग-अलग प्रकार के प्रशिक्षण प्रदान किए जाएंगे जिससे कि वह अपने उद्योग बेहतर बना सके तथा उनके जीवन स्तर में सुधार आ सके यह योजना के द्वारा से प्रदेश की महिलाएं आत्मनिर्भर बनेगी तथा औद्योगिक क्षेत्र का भी विकास होगा।

यूपी महिला सामर्थ्य योजना के लाभ तथा विशेषताएं

  • उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के माध्यम से महिलाओं के सशक्तिकरण और कल्याण के लिए UP Mahila Samarthya Yojana आरंभ की गई है।
  • इस योजना के द्वारा से प्रदेश की महिलाओं को रोजगार के प्रति प्रेरित किया जाएगा।
  • यूपी महिला सामर्थ्य योजना के अंतर्गत स्थानीय संस्थानों के आधार पर होम एंड कॉटेज उद्योगों के द्वारा से महिलाओं के जीवन स्तर में सुधार लाने का प्रयास किया जाएगा।
  • इस योजना के माध्यम से महिलाओं को अपनी उपज को बेचने के लिए सरकार के द्वारा बाजार भी उपलब्ध करवाया जाएगा।
  • उत्तर प्रदेश सरकार के माध्यम UP Mahila Samarthya Yojana को बजट की घोषणा करते हुए 22 फरवरी 2021 को आरंभ किया गया है।
  • इस योजना के परिपालन के लिए सरकार के द्वारा 100 करोड़ रुपए का बजट निर्धारित किया गया है।
  • यह योजना महिला सशक्तिकरण तथा कल्याण के लिए एक महत्वकांक्षी योजना साबित होगी।
  • इस योजना का कार्यान्वयन दो स्तरीय कमेटी के माध्यम से किया जाएगा।
  • एक कमेटी जिला स्तर पर गठित की जाएगी।
  • तथा एक कमेटी राज्य स्तर पर गठित की जाएगी।
  • इस योजना के द्वारा से महिलाओं के माध्यम से संचालित किए जाने वाले उद्यानों का उत्थान किया जाएगा।
  • यूपी महिला सामर्थ्य योजना के पहले चरण में 200 विकास खंडों में महिला सामान्य सुविधा केंद्र विकसित किए जाएंगे।
  • इन केंद्रों पर अलग तरह के प्रशिक्षण महिलाओं को प्रदान किए जाएंगे।
  • हर एक सुविधा केंद्र पर होने वाला 90 फीसद खर्च राज्य सरकार के माध्यम से वाहन किया जाएगा।

यूपी भाग्यलक्ष्मी योजना

UP Mahila Samarthya Yojana कार्यान्वयन

यूपी महिला सामर्थ्य योजना के पहले चरण में 200 विकास खंडों में महिला सामान्य सुविधा केंद्र विकसित किए जाएंगे इन केंद्रों पर प्रशिक्षण, सामान्य उत्पादन तथा प्रसंस्करण, तकनीकी अनुसंधान और विकास, पैकेजिंग, लेबलिंग, बारकोडिंग सुविधा जैसी सुविधाएं उपलब्ध करवाई जाएगी हर एक सुविधा केंद्र का 90 फीसद खर्च राज्य सरकार के माध्यम से वाहन किया जाएगा UP Mahila Samarthya Yojana के अंतर्गत राज्य और जिले दोनों स्तरों पर दो स्तरीय कमेटी का गठन किया जाएगा जिला स्तरीय समिति का गठन जिला मजिस्ट्रेट की अध्यक्षता में किया जाएगा तथा राज्य में महिलाओं के लिए रोजगार को प्रोत्साहित करने के लिए राज्य स्तरीय संचालन समिति के साथ जिला स्तरीय कमेटी को काम करना होगा प्रत्येक जिले में गठित समिति पात्र महिला समूह तथा संगठनों की पहचान करेगी और उनका मार्गदर्शन करेगी।

UP BC Sakhi Yojana

यूपी महिला सामर्थ्य योजनाआवश्यक दस्तावेज और पात्रता

  • आवेदक उत्तर प्रदेश का मूल निवासी होना चाहिए।
  • आवेदक एक महिला होनी चाहिये।
  • आधार कार्ड
  • राशन कार्ड
  • वोटर आईडी कार्ड
  • बैंक खाता विवरण
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नंबर

UP Mahila Samarthya Yojana के अंतर्गत आवेदन करने की प्रक्रिया

अगर आप UP Mahila Samarthya Yojana के अंतर्गत आवेदन करना चाहते हैं तो आपको अभी कुछ समय इंतजार करना होगा सरकार के माध्यम से अभी सिर्फ इस योजना की घोषणा की गई है जल्द सरकार के द्वारा से इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने की प्रक्रिया सक्रिय की जाएगी जैसे ही सरकार के माध्यम से यूपी महिला सामर्थ्य योजना के अंतर्गत आवेदन करने की प्रक्रिया आरंभ की जाएगी हम आपको अपने इस आर्टिकल के द्वारा से जरूर सूचित करेंगे तथा आप हमारे इस आर्टिकल से जुड़े रहे।

Leave a Comment