मेरी फसल मेरा ब्यौरा रजिस्ट्रेशन 2023: पंजीकरण Meri Fasal Mera Byora Registration

Meri Fasal Mera Byora Portal, हरियाणा मेरी फसल मेरा ब्यौरा ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन 2023| फसल पंजीकरण कैसे करें| Haryana Meri Fasal Mera Byora Registration @ fasal.haryana.gov.in

मित्रों आज हम आपको अपने इस आर्टिकल के द्वारा से हरियाणा सरकार के माध्यम से आरंभ की गई मेरी फसल मेरा ब्यौरा योजना से संबंधित सभी आवश्यक जानकारी विवरण करने जा रहे हैं इस आर्टिकल को पढ़कर आपको हरियाणा मेरी फसल मेरा ब्यौरा योजना से संबंधित सभी जरूरी जानकारी प्राप्त होगी जैसे कि Haryana Meri Fasal Mera Byora Yojana क्या है? इसकी हाइलाइट्स, उद्देश्य, लाभ, विशेषताऐं, पात्रता, आवश्यक दस्तावेज, आवेदन प्रक्रिया आदि तो दोस्तों अगर आप यह योजना से संबंधित सभी जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आप से निवेदन है कि आप हमारे इस आर्टिकल को अंत तक जरूर पढ़ें

मेरी फसल मेरा ब्यौरा

Table of Contents

Haryana Meri Fasal Mera Byora Yojana 2023

राज्य के मुख्यमंत्री श्री माननीय मनोहर लाल खट्टर जी के माध्यम से मेरी फसल मेरा ब्यौरा योजना का शुभारंभ किया गया है इस योजना के अंतर्गत हरियाणा के किसान अपनी फसल का पूरा ब्यौरा ऑनलाइन दर्ज कर सकते हैं हरियाणा मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल के द्वारा से सरकार के माध्यम यह सुनिश्चित किया जाएगा कि राज्य सरकार के माध्यम विवरण किया गया बीमा कवर, प्राकृतिक आपदाओं के कारण फसल मुआवजा आदि किसानों को प्रदान किया जा सके इस योजना के अंतर्गत आवेदन करवाने के लिए आपको किसी भी दफ्तर के चक्कर काटने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी आपको सिर्फ मेरी फसल मेरा ब्यौरा योजना की ऑफिशल वेबसाइट पर जाना होगा यह पोर्टल के द्वारा से हरियाणा के किसानों को एक ही जगह पर सारी सरकारी सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएगी।

हरियाणा चारा-बिजाई योजना

हरियाणा मेरी फसल मेरा ब्यौरा Highlights

योजना का नामHaryana Meri Fasal Mera Byora
किसके माध्यम से आरंभ की गईमुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर जी के माध्यम
उद्देश्यकिसान और खेत का पंजीकरण
लाभार्थीहरियाणा राज्य के किसान
साल2023
पंजीकरण प्रक्रियाऑनलाइन मोड
विभागकृषि विभाग
श्रेणीहरियाणा सरकारी योजनाएं
आधिकारिक वेबसाइटfasal.haryana.gov.in

Meri Fasal Mera Byora खरीफ सीजन पंजीकरण

दोस्तों जैसा कि आप सभी जानते हैं कि खरीफ सीजन आरंभ हो गया है इसी बात को ध्यान में रखते हुए सरकार के माध्यम से खरीफ फसलों का पंजीकरण मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल पर आरंभ कर दिया गया है वह सभी किसान जो खरीफ फसलों की खेती कर रहे हैं वह अपनी फसलों का विवरण पोर्टल पर दर्ज कर सकते हैं इस बार पोर्टल पर करीब-करीब 20 से भी ज्यादा फसलों का रजिस्ट्रेशन किया जा रहा है इस बात की जानकारी हिसार के उपायुक्त डॉ प्रियंका सोनी के माध्यम से विवरण की गई है यह पोर्टल के द्वारा से यह भी सुनिश्चित किया जाता है कि किसानों तक फसल बीमा कवर, प्राकृतिक आपदाओं के कारण मिलने वाला फसल मुआवजा और अन्य सरकारी योजनाओं का फायदा किसानों तक पहुंच रहा है या नहीं।

हरियाणा रोजगार मेला

बाजरे की फसल का भी होगा जल्द रजिस्ट्रेशन आरंभ

किसानों को मेरी फसल मेरा ब्यौरा योजना के अंतर्गत आवेदन करने के लिए अब किसी भी सरकारी दफ्तरों के चक्कर लगाने की जरूरत नहीं पड़ेगी क्योंकि अब किसान सीएससी केंद्र के द्वारा से पोर्टल पर पंजीकरण कर सकते हैं इसके अलावा किसानों के माध्यम वेब पोर्टल के द्वारा से खुद भी पंजीकरण किया जा सकता है रजिस्ट्रेशन करते समय किसानों द्वारा यह पाया गया है कि बाजरे की फसल का रजिस्ट्रेशन पोर्टल पर स्वीकार नहीं किया जा रहा है इस संबंध में कृषि विभाग के अधिकारियों को सूचना विवरण की गई है अधिकारियों के माध्यम से यह जानकारी विवरण की गई कि बाजरे की फसल किसी तकनीकी कारण की वजह से दर्ज नहीं की गई जल्द बाजरे की फसल का भी रजिस्ट्रेशन होना आरंभ हो जाएगा।

25 जून 2021 तक करें मेरा पानी मेरी विरासत योजना के अंतर्गत पंजीकरण

वह सभी किसान जो मेरा पानी मेरी विरासत योजना का फायदा उठाना चाहते हैं उन्हें मेरी फसल मेरा ब्यौरा वेब पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करना होगा यह रजिस्ट्रेशन 25 जून 2021 तक ही किया जा सकता है सभी पंजीकृत किसानों को फसल विविधीकरण योजना के अंतर्गत प्रोत्साहन राशि विवरण की जाएगी धान की फसल का वैकल्पिक फसल जैसे मक्का, कपास, तिल, मूंगफली, सब्जी आदि से विविधीकरण करने के लिए मेरा पानी मेरी विरासत योजना के अंतर्गत धान क्षेत्र वाले जिले शामिल किए गए हैं वह सभी किसान जिन्होंने पिछले साल मेरा पानी मेरी विरासत योजना का फायदा प्राप्त करा था वह इस साल भी इस योजना का फायदा प्राप्त कर सकते हैं।

इसके अलावा वह भी सभी किसान जो धान की जगह चारा उगाते हैं या अपना खेत खाली रखते हैं उन्हें भी इस योजना का फायदा विवरण किया जाएगा सभी फसल विविधीकरण अपनाने वाले किसानों को 7000 रुपये प्रति एकड़ की वित्तीय मदद विवरण की जाएगी यह वित्तीय मदद सीधे उनके बैंक खाते में भेजी जाएगी इसके अलावा वैकल्पिक फसलों का फसल बीमा भी किया जाएगा जिसके प्रीमियम का भुगतान प्रोत्साहन राशि से किया जाएगा हरियाणा सरकार के माध्यम से भी वैकल्पिक फसलों की खरीद न्यूनतम समर्थन मूल्य पर किए जाने का भी प्रावधान इस योजना के अंतर्गत उपस्थित है।

किसान सम्मान निधि योजना

मेरा पानी मेरी विरासत योजना को मेरी फसल मेरा ब्यौरा योजना के साथ जोड़ा गया

Mera Pani Meri Virasat Yojana को सरकार के माध्यम से पिछले साल आरंभ किया गया था यह योजना को शुभारंभ करने का प्रमुख उद्देश्य है कि पानी की बचत करना है इस योजना के अंतर्गत उन किसानों को आर्थिक मदद विवरण की जाती है जो किसान धान की जगह वैकल्पिक फसल (जो कम पानी की खपत करती है) की खेती करते हैं यह आर्थिक मदद 7000 रुपये प्रति एकड़ की दर से विवरण की जाती है पिछले साल किसानों के माध्यम से 96000 एकड़ जमीन पर उन फसलों की खेती की गई थी जो कम पानी का उपयोग करती है यह योजना की सफलता को देखते हुए अब मेरा पानी मेरी विरासत योजना को मेरी फसल मेरा ब्यौरा योजना के साथ छोड़ने का फैसला लिया गया है जिससे कि किसानों को फायदा पहुंचाया जा सके।

रिव्यू मीटिंग के द्वारा से दी गई जानकारी

मेरी फसल मेरा ब्यौरा योजना से जुड़ने की जानकारी एक रिव्यू मीटिंग के दौरान हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री माननीय मनोहर लाल खट्टर जी के माध्यम से प्रदान की गई है इस रिव्यू मीटिंग के दौरान कृषि विभाग के अधिकारियों को मुख्यमंत्री जी के माध्यम से यह निर्देश दिए गए हैं कि सभी किसानों तक इस योजना से संबंधित जानकारी पहुंचाई जाए जिससे कि पानी की बचत की जा सके मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर जी के माध्यम से यह भी जानकारी दी गई थी कि किसानों को सब्जियां, दाले, सोयाबीन, ग्वार आदि की खेती करने के लिए भी आर्थिक मदद प्रदान की जाएगी यह योजना का फायदा प्राप्त करने के लिए सभी किसानों को अपनी फसल से संबंधित विस्तृत जानकारी मेरी फसल मेरा ब्यौरा तथा मेरा पानी मेरी विरासत पोर्टल पर देनी होगी।

समय से किया जाएगा सत्यापन

किसानों के माध्यम फसल की जानकारी पोर्टल पर अपलोड करने के पश्चात संबंधित अधिकारी के माध्यम से जानकारी का सत्यापन किया जाएगा तथा इसके पश्चात लाभ की राशि लाभार्थी के खाते में पहुंचा दी जाएगी मुख्यमंत्री जी के माध्यम से यह भी निर्देश दिए गए कि इस योजना के परिपालन के लिए लाभार्थी का सत्यापन समय से कर लिया जाए इसके अलावा उन्होंने यह भी निर्देश दिए कि पूरे राज्य को चार जोन में बांटा जाएगा हर जोन में एक सीनियर ऑफिसर की नियुक्ति की जाएगी यह सीनियर ऑफिसर अपने जोन के किसानों को सरकार के माध्यम विवरण की जाने वाली योजनाओं की जानकारी प्रदान करेंगे जिससे कि किसान हर योजना का फायदा प्राप्त कर सकेंगे मेरा पानी मेरी विरासत योजना का फायदा उन किसानों को भी प्रदान किया जाएगा जिन्होंने धान सीजन के दौरान कोई खेती नहीं की है।

 प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना

Meri Fasal Mera Byora रबी मार्केटिंग सीजन रजिस्ट्रेशन

सरकार के माध्यम से Meri Fasal Mera Byora Portal पर गेहूं, सरसों, दलहन,  सूरजमुखी, चना तथा जौ बेचने के इच्छुक किसानों के लिए आवेदन खोल दिया गया है वह सभी किसान जो पोर्टल पर पंजीकरण नहीं कर पाए थे वह जल्द से जल्द पोर्टल पर पंजीकरण करवा ले अगर किसानों के माध्यम वक्त से पंजीकरण नहीं करवाया गया तो किसान सरकारी मंडियों में अपनी फसल नहीं बेच पाएंगे अब तक मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल पर 7.80 किसानों का रजिस्ट्रेशन हो चुका है एक अप्रैल 2021 से रबी मार्केटिंग सीजन 2021-22 का शुभारंभ हो गया है रबी मार्केटिंग सीजन के पहले 2 दिनों में 3574 किसान 2.5 लाख क्विंटल गेहूं बेचने के लिए मंडी पहुंचे थे इस गेहूं की खरीद सरकारी एजेंसियों के माध्यम से की गई है।

फसल खरीद पर ऑनलाइन भुगतान तथा शेड्यूलिंग

वह सभी किसान जो अपनी गेहूं फसल सरकारी मंडियों के द्वारा से बेचना चाहते है वह Meri Fasal Mera Byora के द्वारा से scheduling भी कर सकते है शेड्यूलिंग के द्वारा से किसान अपनी मर्जी से मंडी में फसल लाने की दिनांक चुन सकते हैं इसके अलावा किसान संबंधित मंडी सचिव, मार्केट कमेटी या मंडी के कॉल सेंटर में संपर्क करके भी शेड्यूलिंग कर सकते हैं अगर किसानों के माध्यम फसल बेचने के पश्चात किसानों को वक्त पर भुगतान नहीं किया गया तो किसानों को 9 फीसद का ब्याज दिया जाएगा सरकार के माध्यम बिक्री के 40 घंटे से लेकर 72 घंटे के अंदर-अंदर भुगतान किया जाएगा इस साल सभी भुगतान ऑनलाइन द्वारा से करने की व्यवस्था की गई है।

इस वर्ष हरियाणा सरकार के माध्यम 8 लाख मैट्रिक टन गेहूं खरीदने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है पिछले साल सरकार के माध्यम 60.3 फीसद 74 लाख मैट्रिक टन गेहूं की खरीद की गई थी यह खरीद के द्वारा से 7,80,962 किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य का भुगतान किया गया था यह न्यूनतम समर्थन मूल्य 14245 करोड़ रुपये था।

Meri Fasal Mera Byora Yojana पर रजिस्ट्रेशन अनुदान प्राप्त करने के लिए अनिवार्य

11 जनवरी 2021 से हरियाणा सरकार की योजनाओं के अंतर्गत अगर किसान कृषि यंत्रों पर अनुदान प्राप्त करना चाहते हैं तो उनको मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करवाना जरूरी है यह जानकारी कृषि एवं किसान कल्याण विभाग के माध्यम से विवरण की गई है सन 2020-21 में किसानों ने कृषि यंत्रों एवं मशीनों के लिए भौतिक सत्यापन करवा लिया है तथा वह सभी किसान जिन्होंने अब तक अपनी फसल का रजिस्ट्रेशन नहीं करवाया है वह जल्द से जल्द मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल पर अपना रजिस्ट्रेशन करवा ले यह रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया 11 जनवरी से आरंभ हो रही है रजिस्ट्रेशन करवाने के पश्चात किसानों को दफ्तरों में सभी आवश्यक दस्तावेज जमा करना जरूरी है अगर किसान दफ्तरों में आवश्यक दस्तावेज नहीं जमा करते तो उनका रजिस्ट्रेशन रद्द माना जाएगा इसके पश्चात कोई दावा स्वीकार नहीं किया जाएगा।

इस मौके पर सर्व हरियाणा ग्रामीण बैंक शाखा रावलवास खुर्द के माध्यम से एक प्रोग्राम आयोजित किया गया जिस प्रोग्राम में केवाईसी, यूपीएसी, नेट बैंकिंग आदि के कई तरह के ऋण के बारे में जानकारी विवरण की गई इसी के साथ सरकार के माध्यम संचालित की जा रही विभिन्न योजनाएं जैसे कि जन धन योजना, सुरक्षा बीमा योजना, ज्योति बीमा योजना, अटल पेंशन योजना, किसान क्रेडिट कार्ड योजना आदि के बारे में भी जानकारी विवरण की गई जिससे कि नागरिकों तक सरकार के माध्यम से चलाई जा रही सभी योजनाओं का फायदा पहुंच सके सरकार के माध्यम सभी प्रकार की योजनाओं को योग्य लाभार्थियों तक पहुंचाने की कोशिश की जा रही है।

मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल पर पंजीकरण

हरियाणा राज्य के मुख्यमंत्री के द्वारा कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री जेपी दलाल की उपस्थिति में एक बैठक आयोजित की गई थी जिसके द्वारा से यह घोषणा की गई है कि जल्द ही हरियाणा मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया जल्द आरंभ हो जाएगी हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री माननीय मनोहर लाल खट्टर जी के माध्यम से रबी खरीफ सीजन में फसल की खरीद के लिए किए जा रही व्यवस्था की जांच करने के लिए यह बैठक आयोजित की गई थी सरकार के माध्यम से सभी फसल से संबंधित विभागों और खरीद एजेंसियों को यह निर्देश दिए गए हैं कि वह सभी किसान जो मंडियों में अपनी फसल बेचने आए हैं वह सरलता से अपनी फसल बेच सके उन्हें अपनी फसल बेचने में किसी भी परेशानी और मुसीबत का सामना ना करना पड़े।

  • बैठक में यह भी बताया गया कि 1975 रुपये प्रति क्विंटल के एमएसपी पर सरकार 80 लाख मैट्रिक टन गेहूं खरीदेगी, 4650 रुपये प्रति क्विंटल एमएसपी पर सरकार 8 लाख मैट्रिक टन सरसों खरीदेगी, 5100 रुपये प्रति क्विंटल की एमएसपी पर सरकार 11000 मैट्रिक टन चना खरीदेगी और 5885 रुपये प्रति क्विंटल की एमएसपी पर सरकार 17 हजार मैट्रिक टन सूरजमुखी खरीदेगी।
  • यह बैठक में और यह भी बताया गया कि गेहूं की खरीद के लिए 389 मंडियों की स्थापना की जाएगी, सरसों के लिए 71 मंडिया बनेगी, चने के लिए 11 मंडियां और सूरजमुखी के लिए आठ मंडियां स्थापित की जाएगी।

हरियाणा सक्षम योजना 

कॉल सेंटर की स्थापना

किसानों की मदद के लिए कॉल सेंटर भी बनाया जाएगा जिसके द्वारा से किसान अपनी परेशानी दर्ज करवा सकते हैं तथा किसानों की परेशानी का जल्द से जल्द समाधान किया जाएगा इस बैठक में यह भी बताया गया कि एक ई-खरीद सॉफ्टवेयर स्थापित किया जाएगा भुगतान मॉड्यूल भी ई-खरीद का एक हिस्सा होगा इसके लिए बहुत सारे बैंकों से संपर्क किया गया है जब भी कोई भुगतान किया जाएगा तो किसानों को एस.एम.एस के द्वारा से भुगतान की जानकारी भेजी जाएगी अगर किसानों को भुगतान के बारे में जानकारी प्राप्त करने में कोई भी परेशानी और मुसीबत होती है तो इसके लिए खाद्य नागरिक आपूर्ति और उपभोक्ता मामले विभाग के माध्यम एक कॉल सेंटर स्थापित किया जाएगा जिसके द्वारा से भुगतान से संबंधित परेशानियों और मुसीबतों का समाधान किया जाएगा।

हरियाणा मेरी फसल मेरा ब्यौरा नई घोषणा

इस योजना के अंतर्गत हरियाणा सरकार हरियाणा के बाहर के किसानों के लिए धान की खरीद के लिए मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन खोल दिए गए हैं अब इस योजना के अंतर्गत दूसरे राज्यों के किसान भी धान की फसल बेच पाएंगे खरीद सीजन में मंडियों में धान पहुंचा है जिसमें से ज्यादा बिक गया है हरियाणा सरकार के माध्यम अभी हाल ही में रजिस्ट्रेशन करवाने की दिनांक में बदलाव आया है हरियाणा सरकार के द्वारा से रजिस्ट्रेशन की तिथि बढ़ा दी गई है कोई भी किसान अब इस योजना के अंतर्गत आवेदन कर सकता है तथा इस योजना का फायदा प्राप्त कर सकता है।

Meri Fasal Mera Byora Portal

यह पोर्टल को कृषि तथा किसान कल्याण विभागों को एक मंच में लाया गया है और इसके साथ ही राजस्व, खाद्य नागरिक आपूर्ति तथा उपभोक्ता कार्य और विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी के विभागों को भी इस मंच पर लाया गया है यह ऑनलाइन पोर्टल पर किसानों को बुवाई-कटाई के मौसम तथा मंडी से संबंधित जानकारी वास्तविक वक्त के आधार पर विवरण की जाएगी इस पोर्टल के द्वारा से किसान अपनी फसलों के विवरण का ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं आज हम हरियाणा के किसानों के लिए एक योजना लेकर आए हैं हम आपको अपने इस लेख के द्वारा से योजना से जुड़ी सभी जानकारी विवरण करने जा रहे हैं।

हरियाणा परिवार पहचान पत्र 

Haryana Meri Fasal Mera Byora Registration

हरियाणा राज्य के जो इच्छुक लाभार्थी मेरी फसल मेरा ब्यौरा योजना के अंतर्गत किसान रजिस्ट्रेशन, फसल का रजिस्ट्रेशन तथा खेत का ब्यौरा दर्ज करवाने के लिए रजिस्ट्रेशन करना चाहते हैं तो वह योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं इस योजना के तहत बोई जाने वाली फसलों की जानकारी प्राप्त करने और अलग-अलग सरकारी योजनाओं का फायदा योग्य किसानों को प्रदान किया जाएगा यह पोर्टल किसानों की बेहतरी सुनिश्चित करने का काम करेगा मेरी फसल मेरा ब्यौरा ऑनलाइन पोर्टल के द्वारा से किसानों को हरियाणा सरकार की बहुत-सी योजनाओं का लाभ सीधे मिल पायेगा।

किसान पंजीकरण के लिए दिशानिर्देश

  • आधार कार्ड संख्या 12 अंक का होना चाहिए।
  • मोबाइल संख्या 10 अंक का होना चाहिए।
  • फसल की संबंधित जानकारी इस पंजीकृत मोबाइल संख्या पर एसएमएस के माध्यम भेजी जाएगी।
  • आधार कार्ड
  • जमीन की जानकारी के लिए नकल की कॉपी, फारद की कॉपी से अपना मुरब्बा संख्या खसरा संख्या देखकर भरे।
  • फसल के नाम, किस्में, बुवाई का समय
  • बैंक की पासबुक की कॉपी

Haryana Meri Fasal Mera Byora Yojana उद्देश्य

इस मेरी फसल मेरा ब्यौरा योजना का प्रमुख उद्देश्य है कि हरियाणा राज्य के किसानों के लिए एक ही जगह पर सारी सरकारी सुविधाओं की उपलब्धता विवरण करना और समस्या निवारण करना है कृषि संबंधित जानकारियां वक्त पर उपलब्ध करवाना। इस योजना के माध्यम से ऑनलाइन पोर्टल पर खाद्य, बीज, ऋण और कृषि उपकरणों की सब्सिडी वक्त पर उपलब्ध करना है यह योजना के द्वारा से फसल की बिजाई-कटाई का समय और मंडी संबंधित जानकारी उपलब्ध करना है  प्राकृतिक आपदा-विपदा के दौरान सही समय पर मदद दिलाना है तथा यही इस योजना के प्रमुख उद्देश्य है।

हरियाणा मेरी फसल मेरा ब्यौरा के लाभ तथा विशेषताएं

  • किसानों के लिए एक ही जगह पर कई सारी सरकारी सुविधाओं की उपलब्धता तथा समस्या निवारण के लिए एक अनूठा प्रयास है।
  • इस ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से प्राकृतिक आपदा-विपदा के दौरान सही समय पर मदद दिलाना फसल क्षति के कारण मुआवजा देने में आसानी।
  • किसान का पंजीकरण फसल का पंजीकरण और खेत का ब्यौरा एक ही जगह।
  • राज्य सरकार के माध्यम चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं के अंतर्गत वित्तीय सहायता प्रदान करना।
  • खाद्य, बीज, ऋण और कृषि उपकरणों की सब्सिडी वक्त पर उपलब्ध करवाना।
  • कृषि संबंधित जानकारियां समय पर उपलब्ध करना।
  • किसानों के माध्यम अपलोड की जाने वाली सूचना किसी अन्य कानूनी क्लेम में उपयोग नहीं की जा सकेगी।
  • सीजन में बोई जाने वाली फसलों की जानकारी।
  • CSC VLE सभी किसानों की फसलों का ब्यौरा ऑनलाइन दर्ज करेंगे।
  • VLE के अलावा किसान अपने स्तर पर खुद इंटरनेट के द्वारा से पोर्टल पर भी अपनी फसलों का ब्यौरा ऑनलाइन दर्ज करवा सकते हैं।
  • फसल की बिजाई-कटाई का समय और मंडी संबंधित जानकारी उपलब्ध करना।
  • पोर्टल पर आने वाली सूचनाओं को कृषि एवं किसान कल्याण विभाग के साथ साझा किया जाएगा।
  • इसके अलावा जमाबंदी संबंधी डाटा भी पटवारियों के माध्यम साझा किया जाएगा।
  • इससे किसानों की फसलों की खरीद प्रक्रिया आसान हो जाएगी।
  • खरीफ फसलों का ब्यौरा किसान ऑनलाइन दे सकते हैं।
  • मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल पर किसानों को सरकारी सेवाओं और योजनाओं के बारे में सारी जानकारी मिलेगी जो हरियाणा सरकार के माध्यम से चलाई जा रही है।

हरियाणा कौशल रोजगार निगम

Meri Fasal Mera Byora Yojana की पात्रता और आवश्यक दस्तावेज

  • आवेदक हरियाणा के मूल निवासी होने चाहिए।
  • आवेदक का आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • पहचान पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • जमीन के कागजात
  • पासपोर्ट साइज फोटो

Meri Fasal Mera Byora Yojana 2023 में ऑनलाइन आवेदन कैसे करें?

हरियाणा राज्य के जो इच्छुक लाभार्थी यह योजना के अंतर्गत आवेदन करना चाहते हैं तो वह नीचे की ओर दिए गए स्टेप्स को स्टेप्स बाय फॉलो करें।

  • सबसे पहले आवेदक को योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • आधिकारिक वेबसाइट पर जाने के बाद होम पेज खुल जाएगा।
Meri Fasal Mera Byora ऑनलाइन आवेदन करें
  • होम पेज पर आपको पंजीकरण (क्लिक करें) का विकल्प दिखाई देगा।
Meri fasal Mera Byora Yojana Online Registration
  • आपको इस विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • विकल्प पर क्लिक करने के पश्चात आपके सामने अगला पेज खुल जाएगा।
  • इस पेज पर आपको अपना मोबाइल नंबर दर्ज करना होगा।
  • इसके बाद जारी रखें के बटन पर क्लिक करना होगा।
Meri Fasal Mera Byora
  • अब आपसे कुछ जानकारी पूछी जाएगी।
  • आपको इस जानकारी में अपना मोबाइल नंबर, आधार नंबर, परिवार आईडी में से कोई भी एक जो भी आपके पास उपलब्ध हो खाली बॉक्स में दर्ज करनी होगी।
  • अब आपको सर्च के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • क्लिक करने के पश्चात आपके मोबाइल नंबर पर ओटीपी आएगा।
  • उस ओटीपी को आपको आगे के पेज पर दर्ज करना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुल जाएगा।
  • इस रजिस्ट्रेशन फॉर्म में आपके सामने चार चरण आएंगे।
  • जिसमें पहला चरण किसान पंजीकरण का होगा।
  • इस फॉर्म में आपको अपने आप से जुड़ी सभी जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • इसके पश्चात आपके सामने दूसरा चरण आएगा।
  • फसल का विवरण जिसमें आपको अपनी फसल से रिलेटेड जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • फिर तीसरा चरण बैंक विवरण आएगा।
  • जिसमें आपको अपने बैंक अकाउंट से जुड़ी सभी जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • इसके पश्चात अंतिम तथा चौथा चरण मंडी/आढ़ती का विवरण की जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • सभी जानकारी दर्ज करने के बाद आपको आखिर में सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार से आपका रजिस्ट्रेशन पूरा हो जाएगा।

मंडी सचिव लोगिन करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आवेदक को योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • आधिकारिक वेबसाइट पर जाने के बाद होम पेज खुल जाएगा।
  • होम पेज पर आपको मंडी सचिव लॉगिन करें के लिंक पर क्लिक करना होगा।
Meri Fasal Mera Byora
  • इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुलकर आएगा।
  • जिसमें आपको अपना जिला तथा मंडी केंद्र चुनना होगा।
  • अब आपको अपनी मोबाइल संख्या दर्ज करनी होगी।
  • इसके बाद आपको दर्ज करें के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार से आप लॉगिन कर सकते हैं।

Meri Fasal Mera Byora आवेदन फॉर्म को प्रिंट कैसे करें?

  • सबसे पहले आवेदक को योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • आधिकारिक वेबसाइट पर जाने के बाद होम पेज खुल जाएगा।
  • होम पेज पर आपको किसान अनुभाग का ऑप्शन दिखाई देगा।
  • आपको इस ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • जिसके पश्चात आपके सामने एक नया पेज खुल कर आ जाएगा।
Meri Fasal Mera Byora आवेदन फॉर्म को प्रिंट करें
  • इस पेज पर आपको पंजीकरण प्रिंट का ऑप्शन दिखाई देगा।
  • आपको इस ऑप्शन पर क्लिक कर देना होगा।
Meri Fasal Mera Byora आवेदन फॉर्म को प्रिंट करें
  • इस ऑप्शन पर क्लिक करने के पश्चात आपके सामने नया पेज खुल जाएगा।
  • आपको यहां पर पूछे गए विवरण जैसे कि आपका नाम (अंग्रेजी में), मोबाइल नंबर तथा बैंक खाता संख्या को दर्ज कर प्रिंट करें बटन पर क्लिक कर देना है।
  • आपके सामने एप्लीकेशन फॉर्म खुल जाएगा।
  • यहां से आप इस एप्लीकेशन फॉर्म का प्रिंट आउट ले सकते हैं।

पड़ोसी राज्य के किसान का पंजीकरण

  • सबसे पहले आवेदक को योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • आधिकारिक वेबसाइट पर जाने के बाद होम पेज खुल जाएगा।
  • होम पेज पर आपको किसान अनुभाग का ऑप्शन दिखाई देगा।
  • आपको इस ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • जिसके पश्चात आपके सामने एक नया पेज खुलकर आ जाएगा।
  • अब आपको इस पेज में पड़ोसी राज्य के किसान का पंजीकरण के ऑप्शन पर क्लिक कर देना है।
  • इसके पश्चात आपके सामने एक नया फॉर्म खुल जाएगा।
पड़ोसी राज्य के किसान का पंजीकरण करें
  • इस फॉर्म में आपसे पूछी गई सभी जानकारी का विवरण जैसे कि मोबाइल नंबर, कैप्चा कोड आदि दर्ज कर देना है।
  • आपके माध्यम से सभी आवश्यक जानकारी दर्ज करने के बाद आप को जारी रखने के बटन पर क्लिक कर देना है।
  • इसके बाद आपके सामने आवेदन फॉर्म खुल जाएगा।
  • इस फॉर्म में आपको पूछी गई सभी जानकारी का विवरण दर्ज कर देना होगा।
  • सभी महत्वपूर्ण जानकारी दर्ज करने के पश्चात आपको सबमिट के बटन पर क्लिक कर देना होगा।

आढ़ती के माध्यम पड़ोसी राज्य के किसान का विवरण भरें (सिर्फ धान के लिए)

  • सबसे पहले आवेदक को योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • आधिकारिक वेबसाइट पर जाने के बाद होम पेज खुल जाएगा।
  • होम पेज पर आपको किसान अनुभाग का ऑप्शन दिखाई देगा।
  • आपको इस ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • जिसके पश्चात आपके सामने एक नया पेज खुलकर आ जाएगा।
  • अब आपको इस पेज में आढ़ती द्वारा पड़ोसी राज्य के किसान का विवरण भरें के ऑप्शन पर क्लिक कर देना है।
  • इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा।
आढ़ती के माध्यम पड़ोसी राज्य के किसान का विवरण भरें
  • इस फॉर्म में आपसे पूछी गई सभी जानकारी का विवरण जैसे कि मोबाइल नंबर, कैप्चा कोड आदि दर्ज कर देना है।
  • आपके माध्यम से सभी आवश्यक जानकारी दर्ज करने के बाद आप को जारी रखने के बटन पर क्लिक कर देना है।
  • इसके बाद आपके सामने आवेदन फॉर्म खुल जाएगा।
  • इस फॉर्म में आपको पूछी गई सभी जानकारी का विवरण दर्ज कर देना होगा।
  • सभी महत्वपूर्ण जानकारी दर्ज करने के पश्चात आपको सबमिट के बटन पर क्लिक कर देना होगा।

बैंक का विवरण कैसे बदले?

  • सबसे पहले आवेदक को योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • आधिकारिक वेबसाइट पर जाने के बाद होम पेज खुल जाएगा।
  • होम पेज पर आपको किसान अनुभाग का ऑप्शन दिखाई देगा।
  • आपको इस ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • जिसके पश्चात आपके सामने एक नया पेज खुलकर आ जाएगा।
  • अब आपको इस पेज में बैंक विवरण बदले के ऑप्शन पर क्लिक कर देना है।
  • इसके पश्चात आपके सामने एक नया फॉर्म खुल जाएगा।
मेरी फसल मेरा ब्यौरा योजना के अंतर्गत बैंक का विवरण बदले
  • इस फॉर्म में आपसे पूछी गई सभी जानकारी का विवरण जैसे कि मोबाइल नंबर, कैप्चा कोड आदि दर्ज कर देना है।
  • आपके माध्यम से सभी आवश्यक जानकारी दर्ज करने के बाद आपको जारी रखने के बटन पर क्लिक कर देना है।
  • इसके बाद आपके सामने आवेदन फॉर्म खुल जाएगा।
  • इस फॉर्म में आपको पूछी गई सभी जानकारी का विवरण दर्ज कर देना होगा।
  • सभी महत्वपूर्ण जानकारी दर्ज करने के पश्चात आपको सबमिट के बटन पर क्लिक कर देना होगा।

पड़ोसी राज्य के किसान का पंजीकरण प्रिंट करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आवेदक को योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • आधिकारिक वेबसाइट पर जाने के बाद होम पेज खुल जाएगा।
  • होम पेज पर आपको पंजीकरण प्रिंट (पड़ोसी राज्य के किसान जिनकी जमीन हरियाणा में है) के ऑप्शन पर क्लिक कर देना है।
  • इसके बाद आपके सामने नया पेज खुल जाएगा।
पड़ोसी राज्य के किसान का पंजीकरण प्रिंट करें
  • इस बीच में आपसे पूछी गई सभी जानकारी जैसे की फसल ऋतु, नाम (अंग्रेजी), मोबाइल संख्या, बैंक खाता संख्या इत्यादि दर्ज कर देने के पश्चात आपको प्रिंट करें के ऑप्शन पर क्लिक कर देना है।
  • इस प्रकार से आप पड़ोसी राज्य के किसान का पंजीकरण प्रिंट करने की प्रक्रिया को आसानी से पूरा कर सकते हैं।

मंडी में फसल लाने का अनुमादित सप्ताह कैसे चुने?

  • सबसे पहले आवेदक को योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • आधिकारिक वेबसाइट पर जाने के बाद होम पेज खुल जाएगा।
  • होम पेज पर आपको मंडी में फसल लाने का अनुमादित सप्ताह चुने के ऑप्शन पर क्लिक कर देना है।
  • इसके पश्चात आपके सामने एक फॉर्म खुल जाएगा।
मेरी फसल मेरा ब्यौरा के माध्यम मंडी में फसल लाने का अनुमादित सप्ताह चुने
  • आपको इस फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी का विवरण जैसे कि मोबाइल नंबर, कैप्चा कोड, आदि दर्ज करके जारी रखें के बटन पर क्लिक कर देना होगा।
  • इसके पश्चात मंडी में फसल लाने का अनुमादित सप्ताह आपके सामने आ जाएगा।
  • यहां से आप अपनी जरूरत अनुसार सप्ताह चुन सकते हैं।

गेट पास की तिथि कैसे बदलें?

  • सबसे पहले आवेदक को योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • आधिकारिक वेबसाइट पर जाने के बाद होम पेज खुल जाएगा।
  • होम पेज पर आपको गेट पास की तिथि बदले का ऑप्शन दिखाई देगा।
  • आपको इस ऑप्शन पर क्लिक कर देना है।
  • आपके माध्यम से ऑप्शन पर क्लिक करने के पश्चात आपके सामने एक नया पेज खुलकर आ जाएगा।
  • आपको इस पेज पर अपना मोबाइल नंबर तथा कैप्चा कोड को दर्ज कर देना है।
  • इसके पश्चात आपको जारी रखने के बटन पर क्लिक कर देना है।
  • अब आप गेट पास की तिथि बदल सकते हैं।

सीमांत किसान पंजीकरण (केवल धान के लिए)

  • सबसे पहले आवेदक को योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • आधिकारिक वेबसाइट पर जाने के बाद होम पेज खुल जाएगा।
  • होम पेज पर आपको सीमांत किसान पंजीकरण (केवल धान के लिए) का ऑप्शन दिखाई देगा।
  • आपको इस ऑप्शन पर क्लिक कर देना होगा।
  • ऑप्शन पर क्लिक करने के पश्चात आपके सामने अगला पेज खुल जाएगा।
सीमांत किसान का पंजीकरण केवल धान के लिए
  • आपको इस पेज पर अपना मोबाइल नंबर तथा कैप्चा कोड आदि दर्ज कर देना होगा।
  • इसके पश्चात जारी रखें के बटन पर क्लिक कर देना होगा।
  • अब आपके सामने एप्लीकेशन फॉर्म खुल जाएगा।
  • आपको एप्लीकेशन फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • सभी जानकारी दर्ज करने के पश्चात आपको सबमिट के बटन पर क्लिक कर देना होगा।

मंडी वार गेट पास सूची कैसे देखें?

  • सबसे पहले आवेदक को योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • आधिकारिक वेबसाइट पर जाने के बाद होम पेज खुल जाएगा।
  • होम पेज पर आपको मंडी वार गेट पास सूची का ऑप्शन दिखाई देगा।
मंडी वार गेट पास सूची देखें
  • आपको इस ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • ऑप्शन पर क्लिक करने के पश्चात आपके सामने अगला पेज खुल जाएगा।
  • इस पेज पर आपको पूछी गई सभी जानकारी जैसे कि डिस्ट्रिक्ट, क्रॉप, मंडी, डेट आदि का चयन करना होगा।
  • सभी जानकारी दर्ज करने के पश्चात आपको व्यू लिस्ट के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार से आपके सामने मंडी वार गेट पास लिस्ट खुलकर आ जाएगी।

Leave a Comment