मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना रजिस्ट्रेशन 2023: ऑनलाइन आवेदन, Tirth Yatra Yojana

Mukhyamantri Tirth Yatra Yojana Online Apply & List | दिल्ली मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन 2023, लाभार्थी सूची |

दोस्तों दिल्ली सरकार ने दिल्ली के वरिष्ठ नागरिकों के लिए एक नई योजना का शुभारंभ किया है जिसका नाम मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना 2023 है। सरकार के पास पहले से ही वरिष्ठ नागरिकों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए कई योजनाएं थी परंतु भारत एक धार्मिक देश है और तीर्थ यात्रा का भी बहुत महत्व है दिल्ली के कुछ वरिष्ठ नागरिक वित्त की कमी के कारण तीर्थ यात्रा के लिए जाने में असमर्थ है सरकार ने यह मुफ्त तीर्थ यात्रा योजना उन वरिष्ठ नागरिकों के लिए शुरू की है जो स्वयं यात्रा के लिए जाने का जोखिम नहीं उठा सकते है तो आज हम आपको अपने इस आर्टिकल में Mukhyamantri Tirth Yatra Yojana से संबंधित सभी जानकारी विवरण करेंगे तथा आपसे निवेदन है कि आप हमारे इस आर्टिकल को अंत तक जरूर पढ़ें।

Mukhyamantri Tirth Yatra Yojana

Table of Contents

Mukhyamantri Tirth Yatra Yojana 2023

यह योजना के अंतर्गत दिल्ली सरकार उस नागरिक को मौका प्रदान कर रही है जो अपने स्वयं के खर्च किए गए धन के लिए तीर्थ यात्रा में जाने में असमर्थ है मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना के लिए कोई ऑफलाइन पंजीकरण प्रक्रिया उपलब्ध नहीं है आप अपना पंजीकरण दिल्ली ई-डिस्ट्रिक्ट वेब पोर्टल पर ऑनलाइन मोड के द्वारा से कर सकते हैं Mukhyamantri Tirth Yatra Yojana के तहत सरकार यात्रा, भोजन, निवास आदि जैसे सभी खर्चों को वाहन करेगी यह योजना के तहत सभी सुविधाएं सरकार के माध्यम से नि:शुल्क प्रदान की जाएगी।

दिल्ली रोजगार मेला

मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना Highlights

योजना का नामMukhyamantri Tirth Yatra Yojana
किसके माध्यम से आरंभ की गईमुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल जी के माध्यम
लॉन्च तिथिजनवरी, 2018
लक्ष्यवरिष्ठ नागरिकों को तीर्थ यात्रा करवाना
क्रियान्वयनअगस्त, 2018
यात्रा की शुरुआत4 सितंबर
आधिकारिक वेबसाइटedistrict.delhigovt.nic.in

मई 2022 में योजना के अंतर्गत रवाना की जाएगी तीन ट्रेनें

दिल्ली तीर्थ यात्रा योजना के अंतर्गत 8 मई 2022 को रामेश्वरम के लिए ट्रेन रवाना की जाएगी मई 2022 में इस योजना के अंतर्गत 3 तीर्थ स्थलों के लिए ट्रेन रवाना की जाएगी अब तक यह योजना के अंतर्गत 58 ट्रेन रवाना की जा चुकी है जिसमें 58000 बुजुर्गों ने यात्रा की है इस माह के अंत तक कुल ट्रेनों की संख्या बढ़कर 61 हो जाएगी 8 मई 2022 को रामेश्वरम के बाद 18 मई को गुजरात के द्वारका और 28 मई को जगन्नाथपुरी के लिए ट्रेन सफदरजंग रेलवे स्टेशन से रवाना की जाएगी यह बात की जानकारी दिल्ली सरकार की तीर्थ यात्रा विकास समिति के चेयरमैन कमल बंसल के माध्यम से प्रदान की गई है।

इस योजना को 12 जुलाई 2019 को मुख्यमंत्री श्री माननीय अरविंद केजरीवाल जी के माध्यम से आरंभ किया गया था यह योजना के अंतर्गत पहली ट्रेन अमृतसर के लिए रवाना की गई थी अब तक इस योजना के अंतर्गत अधिकतम ट्रेन रामेश्वरम के लिए रवाना की जा चुकी है तीर्थ यात्रियों में महिलाओं की संख्या 68% से ज्यादा दर्ज की गई है।

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना 

वृद्ध आश्रम में रहने वाले नागरिकों को भी जल्द भेजा जाएगा तीर्थ यात्रा पर

दिल्ली के सीएम श्री माननीय अरविंद केजरीवाल जी के माध्यम से 12 अप्रैल 2022 को यह जानकारी प्रदान की गई थी कि उनकी सरकार दिल्ली के वृद्ध आश्रम में रहने वाले वरिष्ठ लोगों को भी मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना के अंतर्गत तीर्थ यात्रा पर भेजेगी इस बात की जानकारी मुख्यमंत्री जी के द्वारा पूर्वी दिल्ली में चौथे वृद्ध आश्रम बाबा साहेब डॉक्टर भीमराव अंबेडकर वरिष्ठ नागरिक ग्रह का उद्घाटन करते हुए प्रदान की गई यह योजना को 2020 तथा 2021 में कोरोना महामारी के कारण आयोजित नहीं किया गया था परंतु अब सरकार के माध्यम से इसे फिर से शुरू किया जाएगा।

वृद्ध आश्रम में रहने वाले लोगों को भी तीर्थ यात्रा पर भेजा जाएगा इस योजना के द्वारा से द्वारका, हरिद्वार, ऋषिकेश, मथुरा, वृंदावन, अयोध्या, अजमेर शरीफ आदि जैसे तीर्थ स्थानों पर नागरिकों को भेजा जाएगा मुख्यमंत्री जी के माध्यम से यह भी जानकारी प्रदान की गई थी कि दिल्ली में अभी सिर्फ चार वृद्धाश्रम है और पांचवा वृद्ध आश्रम जल्दी बनकर तैयार हो जाएगा।

अप्रैल में 6 ट्रेनों को किया गया योजना के अंतर्गत शेड्यूल्ड

दिल्ली सरकार के माध्यम से अप्रैल के लिए मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना के अंतर्गत 6 ट्रेनों को शेड्यूल किया गया है यह ट्रेनें 14 अप्रैल से 29 अप्रैल तक भेजी जाएगी यह योजना के अंतर्गत अब तक 52 ट्रेनें अलग-अलग स्थलों पर जा चुकी है अप्रैल माह में 6 और ट्रेनें भेजी जाएगी 14 अप्रैल को सफदरजंग रेलवे स्टेशन से रामेश्वर के लिए ट्रेन रवाना की जाएगी जिसके बाद 17 अप्रैल को द्वारकाधीश तीर्थ स्थल के लिए ट्रेन रवाना की जाएगी 20 अप्रैल को शिरडी के लिए ट्रेन रवाना की जाएगी 24 अप्रैल को फिर से रामेश्वरम के लिए ट्रेन रवाना की जाएगी 26 अप्रैल को द्वारकाधीश एवं 29 अप्रैल को तिरुपति बालाजी तीर्थ स्थल के लिए ट्रेन रवाना की जाएगी।

अब तक इस योजना का फायदा करीब-करीब 52000 लोगों को प्राप्त हुआ है यह योजना का शुभारंभ जुलाई 2019 में किया गया था मुख्यमंत्री जी के माध्यम से पहली ट्रेन दिल्ली से अमृतसर के लिए भेजी गई थी अब तक इस योजना के द्वारा से सबसे ज्यादा ट्रेनें रामेश्वरम के लिए भेजी जा चुकी है इस योजना के अंतर्गत महिला यात्रियों की संख्या 68 फीसद से ज्यादा है।

दिल्ली राशन कार्ड

14 फरवरी 2022 से किया जाएगा योजना का दोबारा से आरंभ

सीएम अरविंद केजरीवाल जी के द्वारा मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना को दोबारा से आरंभ करने का फैसला लिया गया है जिसके लिए पहली ट्रेन 14 फरवरी 2022 को गुजरात के द्वारकाधीश के लिए रवाना की जाएगी तथा दूसरी ट्रेन 18 फरवरी 2022 को रामेश्वरम के लिए रवाना की जाएगी यह योजना के माध्यम से दिल्ली के वरिष्ठ नागरिकों को तीर्थ यात्रा पर भेजा जाता है डेढ़ महीने के बाद यह योजना दोबारा से आरंभ होने जा रही है तीर्थ यात्रा पर द्वारकाधीश एवं रामेश्वरम जाने के लिए बड़ी संख्या में दिल्ली के लोगों ने आवेदन किया है।

इसके अलावा अधिकारियों के माध्यम यह भी जानकारी विवरण की गई है कि इस योजना के परिपालन के संबंध में चर्चा की गई है जिसके बाद फिलहाल दो ट्रेनों का शेड्यूल किया गया है आगे इस योजना के अंतर्गत कुछ और ट्रेनें भी तीर्थ यात्रा के लिए रवाना की जाएगी जिसके माध्यम से दिल्ली के लोगों को तीर्थ स्थलों के दर्शन करवाए जाएंगे।

दूसरी ट्रेन 10 दिसंबर को की जाएगी अयोध्या के लिए रवाना

दोस्तों जैसा कि आप सभी जानते हैं कि दिल्ली के बुजुर्गों को अलग-अलग तीर्थ स्थलों के दर्शन करवाने के लिए दिल्ली सरकार के माध्यम मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना का शुभारंभ किया गया था कोविड-19 के कारण इस योजना को रोक दिया गया था लगभग 23 महीने बाद इस योजना को दोबारा से आरंभ किया गया है जिसके लिए दिसंबर 2021 से लेकर फरवरी 2022 तक का शेड्यूल बनाया जा रहा है यह योजना के अंतर्गत 3 दिसंबर 2021 को अयोध्या के लिए लगभग 1000 तीर्थ यात्रियों का पहला जत्था रवाना किया गया था 10 दिसंबर को दूसरी ट्रेन को भी अयोध्या के लिए ही रवाना किया जाएगा जिसके लिए तीर्थ यात्रियों की लिस्ट तैयार की जा रही है।

विभिन्न अन्य तीर्थ स्थलों पर भी भेजा जाएगा तीर्थ यात्रियों को

आने वाले 2 महीनों में दिल्ली के बुजुर्गों को अलग-अलग तीर्थ स्थलों पर दर्शन करने के लिए भेजा जाएगा जिसमें रामेश्वरम, द्वारकाधीश, उज्जैन, जगन्नाथपुरी, तिरुपति, बालाजी, शिरडी आदि शामिल है इन सभी स्थलों का शेड्यूल तैयार किया जा रहा है इसके अलावा करतारपुर साहिब के लिए बस के माध्यम से यात्रियों का पहला जत्था 5 जनवरी 2022 को रवाना किया जाएगा तथा दिल्ली से वैलंकन्नी यात्रा के लिए यात्रियों की पहली ट्रेन 7 जनवरी 2022 को रवाना की जाएगी सभी तीर्थ स्थलों के सहयोग से संबंधित जानकारी जल्द लोगों को भी विवरण की जाएगी।

अलग-अलग प्रकार के सूत्रों से जानकारी सामने आई है कि इस योजना के कार्यान्वयन को लेकर राज्य मंत्री के माध्यम दिल्ली टूरिज्म एंड ट्रांसपोर्टेशन डेवलपमेंट कॉरपोरेशन और इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कारपोरेशन के अधिकारियों के साथ बैठक की गई थी इस बैठक में ट्रेनों के आगमी शेड्यूल को लेकर चर्चा की गई है जनवरी में लगभग 7 से 8 ट्रेनें भेजी जा सकती है फरवरी का शेड्यूल अभी बनाया जा रहा है।

अयोध्या के लिए रवाना किए जाएंगे 1000 तीर्थ यात्री

मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना के तहत 3 दिसंबर 2021 को एक जत्था अयोध्या के लिए रवाना किया जाएगा जिसमें 1000 लोग शामिल होंगे यह योजना के तहत अक्टूबर 2021 में दिल्ली की कैबिनेट द्वारा अयोध्या को मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना के अंतर्गत शामिल करने का फैसला लिया गया था अब दिल्ली के नागरिक अयोध्या का दौरा मुफ्त में कर सकेंगे इस योजना के अंतर्गत पहली ट्रेन 1000 तीर्थ यात्रियों को लेकर अयोध्या के लिए 3 दिसंबर 2021 को रवाना की जाएगी यह बात की जानकारी तीर्थ यात्रा विकास समिति के अध्यक्ष कमल बंसल द्वारा दी गई है तीर्थ यात्रा के लिए अयोध्या समेत विभिन्न स्थलों के लिए बड़ी संख्या में योजना के अंतर्गत आवेदन भी किए जा रहे हैं अन्य स्थलों पर भी तीर्थ यात्रियों को जल्द भेजा जाएगा।

दिल्ली के मुख्यमंत्री के द्वारा से रामेश्वरम, शिर्डी, मथुरा, हरिद्वार, तिरुपति जैसे स्थानों सहित 13 सर्किट पर तीर्थ यात्रियों को भेजा जाएगा जिसका पूरा खर्च दिल्ली सरकार के माध्यम से वाहन किया जाएगा हर एक तीर्थयात्री अपने साथ 21 साल या फिर उससे ज्यादा आयु का एक नागरिक साथ ले जा सकता है जिसका खर्च भी दिल्ली सरकार द्वारा ही वाहन किया जाएगा।

15 नवंबर 2021 से किया जा सकता है योजना को फिर से आरंभ

15 नवंबर 2021 से मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना को फिर से शुरू किया जा सकता है जिसकी पहली यात्रा अयोध्या के लिए हो सकती है यह योजना को जनवरी 2018 में शुरू किया गया था इस योजना को पिछले डेढ़ साल से कोरोनावायरस संक्रमण के कारण रुका हुआ था मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना के लिए दिल्ली सरकार का राजस्व विभाग नोडल एजेंसी है इसके अलावा तीर्थ यात्रियों की यात्रा और ठहराने की व्यवस्था दिल्ली पर्यटन और परिवहन विकास निगम के माध्यम से की जाएगी पिछले सप्ताह एक बैठक का भी आयोजन किया गया था जिसके अंतर्गत इस योजना को फिर से शुरू करने के बारे में चर्चा की गई थी।

  • इस योजना को 4 मार्गों पर फिर से शुरू किया जा सकता है जो कि अयोध्या, अमृतसर, रामेश्वरम तथा वैष्णो देवी है यह योजना के द्वारा से घर से लौटने तक का पूरा खर्च दिल्ली सरकार के माध्यम से वाहन किया जाता है जिसमें वातानुकूलित ट्रेन से यात्रा करना, उचित AC Hotel में ठहराना, भोजन, स्थानीय यात्रा आदि शामिल है।
  • बुजुर्ग अपनी सहायता के लिए किसी एक युवक को भी अपने साथ ले जा सकते हैं जिसका खर्च भी सरकार के द्वारा वाहन किया जाएगा यह योजना का फायदा प्राप्त करने के लिए आवेदकों के माध्यम ऑनलाइन आवेदन जमा करना होगा इसके अलावा आवेदन संभागीय आयुक्त के कार्यालय, क्षेत्र के विधायक के कार्यालय या तीर्थ यात्रा समिति के कार्यालय में जाकर भी किया जा सकता है यह योजना के अंतर्गत लाभार्थियों का चयन आयोग के ड्रॉ के द्वारा से किया जाता है।

DDA Housing Scheme

Mukhyamantri Tirth Yatra Yojana के अंतर्गत शामिल किया जाएगा अयोध्या को

Mukhyamantri Tirth Yatra Yojana के द्वारा से दिल्ली के बुजुर्गों को तीर्थ यात्रा दिल्ली सरकार के माध्यम करवाई जाती है जिसका पूरा खर्च दिल्ली सरकार के द्वारा से वाहन किया जाता है यह यात्रा कई तीर्थ स्थल पर आयोजित की जाती है जिसमें हरिद्वार, द्वारकापुरी, महाराज, रामेश्वरम, शिर्डी, वैष्णो देवी, अजमेर आदि शामिल है अब दिल्ली सरकार के माध्यम राम जन्मभूमि अयोध्या को भी इस योजना के अंतर्गत शामिल करने का फैसला लिया गया है इस बात की घोषणा दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल जी के द्वारा 27 अक्टूबर 2021 को की गई थी कोविड-19 संक्रमण के कारण फिलहाल यह योजना रुकी हुई है लेकिन इस योजना को नवंबर 2021 के तीसरे हफ्ते से फिर से आरंभ करने की व्यवस्था की जा रही है।

तीर्थ यात्रा पर जाने वाली आखिरी ट्रेन 2 जनवरी 2020 को रवाना की गई थी 12 जुलाई 2019 को सफदरजंग रेलवे स्टेशन से अमृतसर के लिए पहली ट्रेन रवाना की गई थी 12 जुलाई 2019 से 20 जनवरी 2020 तक इस योजना के द्वारा से 36 ट्रेनें अलग-अलग स्थानों पर रवाना की गई है जिसके माध्यम से करीब-करीब 35000 से ज्यादा दिल्ली के नागरिकों द्वारा तीर्थ यात्रा की गई है।

मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना मार्च अपडेट

14 मार्च 2021 को दिल्ली के मुख्यमंत्री श्री माननीय अरविंद केजरीवाल जी के द्वारा वित्तीय साल 2021-22 के 69000 करोड़ रुपए के बजट की घोषणा की गई है इस घोषणा के दौरान मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना के अंतर्गत दिल्ली के बुजुर्ग नागरिकों को रामलला के दर्शन करने के लिए अयोध्या तीर्थ यात्रा पर ले जाने का फैसला किया गया यह यात्रा का पूरा खर्च दिल्ली सरकार के माध्यम वाहन किया जाएगा तीर्थ यात्रियों के साथ डॉक्टर तथा पैरामेडिकल स्टाफ की टीम भेजी जाएगी वह सभी नागरिक जिनकी उम्र 70 साल या फिर उससे ज्यादा है अपने साथ एक अटेंडेड को भी ले जा सकते हैं।

  • यह योजना के माध्यम से अब दिल्ली के नागरिकों को अयोध्या तीर्थ यात्रा करने का अवसर प्राप्त होगा।
  • मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना के अंतर्गत हर साल प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र से 1000 तीर्थ यात्रियों का चयन किया जाएगा।
  • सभी चिन्हित तीर्थ यात्रियों को 100000 रुपये तक की एक्सीडेंटल बीमा कवरेज भी विवरण की जाएगी।
  • इस योजना के द्वारा से अब दिल्ली के नागरिकों का तीर्थ यात्रा करने का सपना पूरा हो सकेगा।

योजना के अंतर्गत इन स्थलों के लिए रवाना की गई ट्रेनें

  • रामेश्वरम 9 ट्रेनें
  • तिरुपति 5 ट्रेनें
  • द्वारकाधीश 6 ट्रेनें
  • अमृतसर 4 ट्रेनें
  • वैष्णो देवी 4 ट्रेनें
  • शिरडी 3 ट्रेनें
  • जगन्नाथपुरी 2 ट्रेनें
  • उज्जैन 2 ट्रेनें 
  • अजमेर 1 ट्रेनें

यात्रा के दौरान मिलने वाली सुविधाएं

इस यात्रा में लोगों को वातानुकूलित ट्रेन, आवास, भोजन, बोर्डिंग, ठहरने और अन्य व्यवस्थायें उपलब्ध कराई जाएगी वह 21 साल से ज्यादा की उम्र का एक अटेंडेड हर बुजुर्ग यात्री के साथ जा सकता है यदि आप भी इन सभी सुविधाओं का फायदा प्राप्त करना चाहते हैं तो इस योजना के तहत अपना आवेदन करवा सकते हैं योजना के अंतर्गत सरकार 77000 वरिष्ठ नागरिकों को मुफ्त में तीर्थाटन कराएगी।

Delhi Widow Pension Scheme

मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना ट्रैवल पैकेज

दिल्ली-मथुरा-वृंदावन-आगरा-फतेहपुर सीकरी-दिल्ली5 दिन
दिल्ली-हरिद्वार-ऋषिकेश-नीलकंठ-दिल्ली4 दिन
दिल्ली-अजमेर-पुष्कर-नाथद्वारा-हल्दीघाटी-उदयपुर-दिल्ली6 दिन
दिल्ली-अमृतसर-वाघा बॉर्डर-आनंदपुर साहिब-दिल्ली4 दिन
दिल्ली-वैष्णो देवी-जम्मू-दिल्ली5 दिन
दिल्ली-रामेश्वरम-मदुरै-दिल्ली8 दिन
दिल्ली-तिरुपति बालाजी-दिल्ली7 दिन
दिल्ली-द्वारकाधीश-नागेश्वर-सोमनाथ-दिल्ली6 दिन
दिल्ली-जगन्नाथ पुरी-कोणार्क-सोमनाथ-दिल्ली7 दिन
दिल्ली-शिरडी-शनि शिंगलापुर-त्रियामकेश्वर-दिल्ली5 दिन
दिल्ली-उज्जैन-ओंकारेश्वर-दिल्ली6 दिन
दिल्ली-बोधगया-सारनाथ-दिल्ली6 दिन
दिल्ली-अयोध्या-दिल्ली4 दिन

Tirth Yatra Yojana नई अपडेट

मित्रों जैसा कि आप सभी जानते हैं कि पूरे भारत देश में कोरोना वायरस का संक्रमण दिन प्रतिदिन फैलता जा रहा है जिसकी वजह से देश के लोग जूझ रहे हैं इसी कोरोना वायरस महामारी के संक्रमण को देखते हुए दिल्ली सरकार ने मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना पर रोक लगा दी है जिससे इस संक्रमण को फैलने से रोका जा सके यह योजना के अंतर्गत राज्य के वरिष्ठ लोगों को मुफ्त में यात्रा कराई जा रही थी इस योजना के तहत सारा खर्च सरकार के माध्यम से वाहन किया जा रहा है।

दिल्ली मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना के अंतर्गत कवर किए गए स्थान

  • दिल्ली-मथुरा-वृंदावन-आगरा-फतेहपुर सीकरी-दिल्ली
  • दिल्ली-हरिद्वार-ऋषिकेश-नीलकंठ-दिल्ली
  • दिल्ली-अजमेर-पुष्कर-दिल्ली
  • दिल्ली-अमृतसर-बाघा बॉर्डर-आनंदपुर साहिब-दिल्ली
  • दिल्ली-वैष्णो देवी-जम्मू-दिल्ली

Mukhyamantri Tirth Yatra Yojana Objective (उद्देशय)

हमारे देश में कई बुजुर्ग ऐसे हैं जिनकी आर्थिक स्थिति खराब है वह सभी गरीब होने के कारण तीर्थ यात्रा नहीं कर पाते हैं इन सभी समस्याओं को देखते हुए दिल्ली सरकार के माध्यम राज्य के बुजुर्गों के लिए मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना को आरंभ किया गया है राज्य सरकार द्वारा शुरू की गई Mukhyamantri Tirth Yatra Yojana के तहत दिल्ली के 60 साल की उम्र पूरी कर चुके हैं बुजुर्गों को देश के किसी भी तीर्थ स्थल पर फ्री में जाने की मदद प्रदान की जाएगी इसके अलावा ही इन यात्राओं में वृद्धजनों को हर प्रकार की मदद दी जाएगी जैसे कि जहां आवश्यक हो रहने की व्यवस्था, बस और खाने-पीने की यात्रा आदि। दिल्ली राज्य सरकार ने मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य यह भी बताया है कि राज्य के बुजुर्गों को आत्मनिर्भर एवं शक्तिशाली बनने में भी मदद करेगा।

दिल्ली बाजार पोर्टल

Mukhyamantri Tirth Yatra Yojana की पात्रता (Eligibility)

  • आवेदक दिल्ली का मूल निवासी होना चाहिए।
  • तीर्थ यात्रा योजना में लाभ प्राप्त करने के लिए उम्र 60 साल अधिक हो।
  • हर वरिष्ठ नागरिक के साथ 18 साल या उससे अधिक उम्र का एक सहायक तीर्थ यात्रा पर जा सकता है।
  • इस योजना के तहत सरकारी अधिकारी और एंप्लोई भाग नहीं ले सकते।
  • एक सीनियर सिटीजन अपने जीवन में एक बार ही तीर्थ यात्रा योजना का लाभ ले सकते हैं।
  • बुजुर्ग नागरिक की वार्षिक आय 3 लाख रुपये से कम होनी चाहिए।
  • 71 साल या ज्यादा उम्र के लोगों को इसमें 21 साल तक के एक अटेंडेड ले जाने की भी सुविधा होगी।
  • सभी ट्रेन वातानुकूलित होगी।

Tirth Yatra Yojana आवश्यकता दस्तावेज

  • आवेदक का आधार कार्ड
  • पहचान पत्र
  • बैंक अकाउंट पासबुक
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया

इस यात्रा के लिए खुद को पंजीकृत करने के लिए आवेदकों को नीचे की ओर चरणों का पालन करना होगा।

Mukhyamantri Tirth Yatra Yojana
  • अब “ई-डिस्ट्रिक्ट दिल्ली में पंजीकरण” अनुभाग से नया उपयोगकर्ता पर क्लिक करें।
  • वहां आधार कार्ड या वोटर कार्ड चुने और दस्तावेज नंबर दर्ज करें।
  • अब कैप्चा कोड दर्ज करें और चेकबॉक्स पर टिक करें।
  • जारी रखें विकल्प पर क्लिक करें और पंजीकरण फॉर्म दिखाई देता है।
  • फॉर्म में शेष जानकारी दर्ज करें और स्क्रीन की गई छवि अपलोड करें।
  • आवेदन पत्र जमा करें और पंजीकरण आईडी तथा पासवर्ड याद रखें।
  • अब साइट पर लॉगिन करें और Mukhyamantri Tirth Yatra Yojana के लिए आवेदन करें।

Mukhyamantri Tirth Yatra Yojana आवेदन की स्थिति खोजने की प्रक्रिया

  • आधिकारिक वेबसाइट खोलें।
  • मुखपृष्ठ से आपको सेवाओं के अनुभाग से अपने एप्लीकेशन को ट्रैक करें विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • विभाग का नाम राजस्व विभाग चुने।
  • फिर मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना चुने।
  • आवेदन संख्या और आवेदक का नाम दर्ज करें।
  • अब कैप्चा कोड दर्ज करें स्क्रीन पर दिखाई देता है।
  • खोज विकल्प पर क्लिक करें और स्क्रीन पर आपकी एप्लीकेशन स्थिति दिखाई देगी।

Grievance दर्ज करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको ई-डिस्ट्रिक्ट दिल्ली की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुलकर आयेगा।
  • होम पेज पर आपको रजिस्टर ग्रीवेंस के लिंक पर क्लिक करना होगा।
मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना Grievance दर्ज करने की प्रक्रिया
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुलकर आएगा।
  • जिसमें ग्रीवेंस फॉर्म होगा।
  • आपको इस फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी जैसे कि आपका नाम, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी आदि सभी जानकारी आपको दर्ज करनी होगी।
  • अब आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार से आप ग्रीवेंस दर्ज कर पाएंगे।

Mukhyamantri Tirth Yatra Yojana ग्रीवेंस स्टेटस ट्रैक करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको ई-डिस्ट्रिक्ट दिल्ली की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुलकर आयेगा।
  • होम पेज पर आपको Track Grievance के लिंक पर क्लिक करना होगा।
Mukhyamantri Tirth Yatra Yojana Grievance Status Track
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुलकर आएगा।
  • जिसमें आपको ग्रीवेंस, मोबाइल नंबर तथा कैप्चा कोड दर्ज करना होगा।
  • इसके बाद आपको सर्च के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार से आप ग्रीवेंस स्टेटस ट्रैक कर पाएंगे।

Leave a Comment