मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना 2023: Mukhyamantri Vatsalya Yojana आवेदन फार्म

Mukhyamantri Vatsalya Yojana Apply Online, Application Form 2023, उत्तराखंड मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया, लाभार्थी सूची, पात्रता एवं लाभ देखें

राज्य के अनाथ बच्चों को शिक्षा और रोजगार उपलब्ध कराने के लिए उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत जी के द्वारा 2 अगस्त 2021 को मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना की शुरुआत की गई थी। इस योजना के तहत राज्य सरकार द्वारा उन बच्चों को आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है। जिनके माता पिता की मृत्यु कोरोना वायरस के कारण हुई थी। ताकि उन बच्चों का भरण पोषण हो सके। और आर्थिक सहायता प्राप्त कर अनाथ हुए बच्चे समाज में अपना जीवन यापन कर सके। हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से Mukhyamantri Vatsalya Yojana से संबंधित जानकारी उपलब्ध कराएंगे। अगर आप मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना से जुड़ी अधिक जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको यह आर्टिकल विस्तारपूर्वक अंत तक पढ़ना होगा।

Mukhyamantri Vatsalya Yojana

Mukhyamantri Vatsalya Yojana 2023

मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना की शुरुआत उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत जी के द्वारा 2 अगस्त 2021 को की गई थी। इस योजना के तहत राज्य के उन बच्चों को आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है जिनके माता पिता की मृत्यु करोना संक्रमण के कारण हुई थी। राज्य सरकार द्वारा इन बच्चों को भरण पोषण करने के लिए प्रतिमाह 3000 रुपए की वित्तीय सहायता प्रदान की जाती हैं। इसी के साथ ही इन बच्चों को सरकार द्वारा शिक्षित करने के लिए स्कूलों में निशुल्क शिक्षा बेरोजगार के लिए प्रशिक्षण की व्यवस्था भी प्रदान की गई है। राज्य सरकार द्वारा यह आर्थिक सहायता 21 वर्ष की आयु पूरी होने तक अनाथ बच्चों को प्रदान की जाएगी। इस योजना की शुरुआत करुणा संक्रमण के कारण अपने माता पिता को खो चुके बच्चों की जिम्मेदारी उठाने के लिए की गई है। उत्तराखंड के ऐसे बच्चे Mukhyamantri Vatsalya Yojana का लाभ प्राप्त करने के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

मुख्यमंत्री लखपति दीदी योजना

उत्तराखंड मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना Highlights

योजना का नामMukhyamantri Vatsalya Yojana
शुरू की गईमुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत जी के द्वारा
लाभार्थीराज्य के अनाथ बच्चे
उद्देश्यकोरोना महामारी में अनाथ हुए बच्चों का आर्थिक सहायता प्रदान करना
सहायता राशिप्रतिमाह 3000 भत्ता सहायता
आवेदन प्रक्रियाऑनलाइन
अधिकारिक वेबसाइटhttps://wecd.uk.gov.in/

Mukhyamantri Vatsalya Yojana Uttarakhand का उद्देश्य

उत्तराखंड सरकार द्वारा मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना को आरंभ करने का मुख्य उद्देश्य राज्य में करोना संक्रमण के कारण अनाथ हुए बच्चों को भरण पोषण प्रदान करने के साथ-साथ शिक्षा बेरोजगार के लिए भी सहायता प्रदान करना है। मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना के तहत राज्य सरकार द्वारा कोरोना संक्रमण के कारण जिन बच्चों ने अपने माता-पिता या परिजन को खो दिया है उन्हें 3,000 रूपए प्रतिमाह वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है। आर्थिक सहायता बच्चों को भरण पोषण शिक्षा पूरी करने के लिए दी जाती है ताकि अनाथ हुए बच्चों को किसी अन्य पर निर्भर ना रहना पड़े और वह अपना सामाजिक व आर्थिक रूप से विकास कर सके। इस योजना के माध्यम से अनाथ हुए बच्चों का भविष्य उज्जवल बनाया जा सकेगा। एवं उन्हें सशक्त बनाने में भी योजना कारागार साबित होगी।

SHRESHTA Scheme

6000 बच्चों को 12 करोड़ रुपए की धनराशि की गई वितरित

राज्य सरकार द्वारा अलग-अलग जिलों से नोडल अधिकारी द्वारा बच्चों की सूची तैयार की गई है। बच्चों की सूची अधिकारियों को आंगनवाड़ी कार्यकर्ता द्वारा ग्राम पंचायत समिति ग्रामीण पंचायत स्तरीय के माध्यम से प्रदान की गई हैं। अब तक 6000 बच्चों की इस योजना के तहत पहचान कराई जा चुकी है। जिसके चलते हाल ही में मुख्यमंत्री योजना के तहत उत्तराखंड सरकार द्वारा राज्य के 6000 बच्चों को लाभान्वित किया गया है। राज्य सरकार द्वारा इन 6000 बच्चों को 12 करोड़ की धनराशि वितरित की गई है। यह धनराशि पात्र बच्चों के बैंक खाते में ऑनलाइन ट्रांसफर की गई है। लाभार्थी बच्चों को 21 वर्ष पूरे होने तक यह आर्थिक सहायता राशि प्रदान की जाती रहेगी। जिससे भी अपना भरण-पोषण कर सकेंगे। तथा भविष्य के लिए सक्षम होगे।

मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना के लाभ एवं विशेषताएं

  • मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना का शुभारंभ मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत जी के द्वारा किया गया है।
  • इस योजना के तहत राज्य के उन सभी बच्चों को आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। जिनके माता-पिता या अभिभावक की मृत्यु कोरोना वायरस के कारण हुई है।
  • ऐसे अनाथ बच्चों को राज्य सरकार द्वारा भरण पोषण करने के लिए 3,000 रूपए की राशि प्रतिमाह प्रदान की जाएगी।
  • बच्चों के बैंक खाते में आर्थिक सहायता राशि डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर के माध्यम से भेजी जाएगी।
  • सरकार द्वारा आर्थिक सहायता 21 वर्ष की आयु पूरी होने तक प्रदान की जाएगी।
  • इसके अलावा ऐसे सभी बच्चों की शिक्षा में रोजगार प्राप्त करने में भी उत्तराखंड सरकार द्वारा मदद की जाएगी।
  • मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए लाभार्थी का बैंक खाता आना अनिवार्य है।
  • राज्य सरकार द्वारा अनाथ हुए सभी बच्चों के लिए सरकारी नौकरी में 5% का कोटा भी निर्धारित किया गया है। 
  • इस योजना के तहत राज्य के 6 हजार बच्चों के खाते में ऑनलाइन धनराशि ट्रांसफर की गई है।
  • मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना के तहत पात्र 6000 बच्चों को 12 करोड़ रुपए की धनराशि वितरित की गई।
  • Mukhymantri Vatsalya Yojana के तहत बच्चों को रोजगार के लिए प्रशिक्षण प्रदान करने की व्यवस्था भी की गई है।
  • सामाजिक सहयोग भी अनाथ बच्चों की सहायता के लिए प्रदान किया जाएगा।
  • इस योजना का लाभ प्राप्त कर बच्चे अपना जीवन यापन कर सकेंगे।
  • मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना के माध्यम से बच्चों के भविष्य को उज्जवल बनाया जा सकेगा।

समग्र शिक्षा अभियान

Mukhyamantri Vatsalya Yojana के लिए पात्रता

  • मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना के तहत लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदक को उत्तराखंड का मूल निवासी होना चाहिए।
  • आवेदक के माता-पिता का विवाह की मृत्यु कोरोना वायरस संक्रमण के कारण हुई हो।
  • आवेदक का बैंक खाता आधार कार्ड से लिंक होना चाहिए।
  • इस योजना के तहत आवेदन करने के लिए आवेदक की आयु 21 वर्ष से कम होनी चाहिए।

मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • पहचान पत्र
  • राशन कार्ड
  • आय प्रमाण पत्र
  • जन्म प्रमाण पत्र
  • माता पिता का मृत्यु प्रमाण पत्र
  • बैंक खाता विवरण
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

Mukhyamantri Vatsalya Yojana के तहत आवेदन करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको Women Empowerment & Child Development Government Of Uttarakhand की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा।
Mukhyamantri Vatsalya Yojana
  • होम पेज पर आपको Recent Update के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपको मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
Mukhyamantri Vatsalya Yojana
मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना
  • अब आपको फॉर्म डाउनलोड के ऑप्शन पर क्लिक करके इसका प्रिंट आउट निकालना होगा।
  • इसके बाद आपको आवेदन फॉर्म में पूछी गई सभी आवश्यक जानकारी को ध्यान पूर्वक दर्ज करना होगा।
  • सभी जानकारी दर्ज करने के बाद आपको महत्वपूर्ण दस्तावेजों को आवेदन फॉर्म के साथ संलग्न करना होगा।
  • अब आपको इस फॉर्म को संबंधित विभाग में जाकर जमा कर देना होगा।
  • इस प्रकार आप मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना के अंतर्गत आवेदन कर सकेंगे।

Leave a Comment