नेशनल एजुकेशन पालिसी |NEP| 2023: New Education Policy नई शिक्षा नीति Pdf

New National Education Policy in Hindi | नेशनल एजुकेशन पॉलिसी (NEP) 2020 | National Education Policy 5+3+3+4 | नेशनल एजुकेशन पॉलिसी रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया | New Education Policy नई शिक्षा नीति Pdf Download | New Education Policy |

मानव संसाधन प्रबंधन मंत्रालय ने हाल ही में नेशनल एजुकेशन पॉलिसी के तहत बदलाव किए हैं और इसकी शुरुआत इसरो के प्रमुख डॉक्टर कस्तूरीरंगन की अध्यक्षता में की गई है। कैबिनेट के माध्यम से National Education Policy 2023 को मंजूरी मिल गई है। इसके कारण शिक्षाको लेकर स्कूलों और कॉलेजों में आने वाले समय में कई तरह के बदलाव नजर आएंगे। आज हम आपको इस लेख के माध्यम से नई नेशनल एजुकेशन पॉलिसी से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी देंगे और साथ ही नेशनल एजुकेशन पॉलिसी में होने वाले बदलाव के बारे में बताएंगे। National Education Policy क्या है, इसके उद्देश्य, लाभ, विशेषताएं, रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया आदि। इसके लिए आपको यह लेख ध्यान पूर्वक अंत तक पढ़ना होगा।

New National Education Policy (NEP)

National Education Policy (NEP) 2023

भारत सरकार द्वारा नेशनल एजुकेशन पॉलिसी 2023 की शुरुआत की गई है। जिसके अंतर्गत केंद्र सरकार द्वारा नेशनल एजुकेशन पॉलिसी में बदलाव किए जाएंगे। National Education Policy के अनुसार स्कूल और कॉलेजों में होने वाली शिक्षा की नीति तैयार की जा रही है। यह नीति इसरो के प्रधान चिकित्सक कस्तूरीरंगन की अध्यक्षता में तैयार की गई है। जिससे इस नई शिक्षा नीति से पुरानी शिक्षा नीति को बदला जाएगा। नई नेशनल एजुकेशन पॉलिसी से शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार होगा। भारत को वैश्विक ज्ञान महाशक्ति बनाना है। नेशनल एजुकेशन पॉलिसी के अंतर्गत 2030 तक स्कूली शिक्षा में 100% GIR के साथ प्री स्कूल से लेकर माध्यमिक विद्यालय तक शिक्षा का सार्वभौमीकरण किया जाएगा। नई शिक्षा नीति के अंतर्गत 5+3+3+4 का पैटर्न का पालन किया जाएगा। पहले 10+2 के पैटर्न का पालन किया जाता था। जिसे नई शिक्षा नीति 2023 के तहत बदल दिया जाएगा।

NIPUN Bharat Mission

National Education Policy (New) Highlights

योजना का नामनेशनल एजुकेशन पॉलिसी
आरंभ की गईभारत सरकार द्वारा
लाभार्थीभारत के नागरिक
उद्देश्यशिक्षा का सार्वभौमीकरण करना है तथा भारत को वैश्विक ज्ञान महाशक्ति बनाना है।
विभागशिक्षा विभाग भारत सरकार
श्रेणीकेंद्र सरकारी योजनाएं  
साल2023
आवेदन प्रक्रियाऑनलाइन
अधिकारिक वेबसाइटncte.gov.in

नेशनल एजुकेशन पॉलिसी के तहत सुविधाएं

  • आजकल बच्चों का कोर्स इतना सारा होता है कि बच्चों को बैग उठाने में बहुत मुश्किल होती है। इसी को ध्यान में रखते हुए बैग के वजन को कम करने के लिए उनके स्कूल में क्लास टाइम टेबल बनाई जाएगी और किताबों के  वजन पर भी ध्यान दिया जाएगा।
  • इस योजना के तहत कक्षा 1 व 2 के बच्चों को कोई होमवर्क नहीं दिया जाएगा क्योंकि कक्षा 1 व 2 के बच्चे बहुत ही कम उम्र के होते हैं और उन्हें इतने लंबे टाइम तक बैठने की आदत नहीं होती है।
  • बच्चों को लंच बॉक्स ना ले जाना पड़े इसलिए स्कूलों को यह सुनिश्चित करना होगा कि उनके भोजन की गुणवत्ता अच्छी हो। ताकि बच्चों के लंच की जरूरत पूरी हो सके और पानी की सुविधा भी उपलब्ध हो ताकि पानी की बोतल बच्चों को ना ले जानी पड़े के इससे उनके स्कूल बैग का वजन भी कम हो जाएगा।
  • केवल कक्षा 3, 4 से 5 के बच्चों को ही हफ्ते में केवल 2 घंटे का होमवर्क दिया जाया करेगा और 6वीं क्लास के बच्चों को रोजाना 1 घंटे का होमवर्क व 9 वीं से 12वीं कक्षा के बच्चों को प्रतिदिन 2 घंटे का होमवर्क दिया जाएगा।

National Scholarship Portal

नई शिक्षा नीति 2023 की स्ट्रीम्स 

राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2023 (NET) के तहत छात्रों को अब एक स्ट्रीम का चयन नहीं करना होगा। अब छात्र साइंस स्ट्रीम के साथ-साथ आर्ट्स स्ट्रीम का भी अध्ययन कर सकते हैं। New National Education Policy के अनुसार प्रत्येक विषय को एक अतिरिक्त पाठ्यक्रम के बजाय एक पाठ्यक्रम के रूप में माना जाएगा। जिसके अंतर्गत योग खेल नृत्य मूर्तिकला संगीत आदि शामिल किए गए हैं। एनसीईआरटी राष्ट्रीय पाठ्यचर्या की रूपरेखा के अनुसार पाठ्यक्रम को डिजाइन किया जाएगा। पाठ्यक्रम में शारीरिक शिक्षा को भी शामिल किया जाएगा। धाराओं और व्यवसाय को अलग नहीं किया जाएगा। जिससे छात्रों को दोनों क्षमता विकसित करने का अवसर मिलेगा।

National Education Policy का उद्देश्य

नेशनल एजुकेशन पॉलिसी का मुख्य उद्देश्य भारत में शिक्षा को सार्वभौमिक बनाकर शिक्षा की गुणवत्ता को बढ़ाना है। जिससे हमारे देश को विश्व स्तर पर शैक्षिक रूप से महाशक्तिशाली बनाया जा सके। इस नई नेशनल एजुकेशन पॉलिसी से पुरानी शिक्षा नीति को बदला जाएगा। नई शिक्षा नीति को अपनाया जाएगा। जिससे शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार होगा और छात्र अच्छी शिक्षा प्राप्त कर सकेंगे। जिससे उनका भविष्य उज्जवल बन सकेगा। New National Education Policy के माध्यम से छात्रों को तकनीकी और रचनात्मक के साथ-साथ शिक्षा के बारे में समझाया जाएगा। ताकि आने वाले समय के लिए पूरी तरह से तैयार किया जा सके और उनमें सशक्तिकरण और मनोबल को बढ़ाया जा सके।

4 साल की B.Ed

 नेशनल एजुकेशन पॉलिसी 2023 के तहत b.Ed की अवधि को बढ़ाकर 4 साल कर दिया गया है। एक शिक्षक के लिए न्यूनतम योग्यता 4 वर्षीय बीएड 2030 के अंत तक कार्यक्रम होगी। सभी शिक्षण संस्थाओं को निर्धारित मानकों का पालन करना होगा। पालन ना करने पर शैक्षणिक संस्थाओं के खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाएगी।

विदेशी भाषा सीखने पर जोर

नेशनल एजुकेशन पॉलिसी के माध्यम से विद्यालय में बच्चों को अपनी पसंद की विदेशी भाषा भी सिखाई जाएगी। जिसमें फ्रेंच, जर्मन, स्पेनिश, चीनी, जापानी आदि भाषाएं शामिल होंगी। इन सभी प्रयासों के माध्यम से भारत की शिक्षा को विश्व स्तर पर पहचान दिलाने का अवसर प्रदान करना है।

समग्र शिक्षा अभियान

National Education Policy उच्च शिक्षा में बदलाव

  • शिक्षा में तकनीकी को बढ़ावा
  • मीटिंग के लिए राष्ट्रीय मिशन
  • दिव्यांगजनों के लिए शिक्षा में क्षेत्रीय में बदलाव
  • 8 क्षेत्रीय भाषाओं में ई-कोर्सेज शुरू
  • सरकारी और प्राइवेट शिक्षा मानक सामान  
  • 5 साल का कोर्स वालों और एमफिल में छूट
  • कॉलेजों में एक्रेडिटेशन के आधार पर ऑटोनॉमी
  • उच्च शिक्षा में मल्टीपल एंट्री और एग्जिट का विकल्प
  • नेशनल रिसर्च फाउंडेशन एनआरएफ की होगी स्थापना
  • लीगल एवं मेडिकल एजुकेशन शामिल नहीं
  • हायर एजुकेशन के लिए एक ही रेगयूलेटर

National Education Policy स्कूली शिक्षा में बदलाव

  • बच्चों के लिए कौशल कोडिंग कोर्स शुरू
  • साल 2030 तक हर बच्चे के लिए शिक्षा सुनिश्चित
  • वोकेशनल पर जोर कक्षा 6 से शुरू होगी पढ़ाई 
  • रिपोर्ट कार्ड में शामिल लाइफ स्किल्स
  • 3 से 6 साल के बच्चों के लिए अर्ली चाइल्डहुड केयर एवं एजुकेशन
  • एक्स्ट्रा करिकुलर एक्टिविटीज मैन करिकुलम में शामिल
  • 9वी से 12वीं की पढ़ाई की रूपरेखा 5+3+3+4 के आधार पर
  • नई नेशनल क्यूरीकुलम फ्रेमवर्क तैयार: बोर्ड एग्जाम दो भाग में (सेमेस्टर प्रणाली)
  • एनसीईआरटी द्वारा फाउंडेशन लिटरेसी एवं न्यूमैरेसी पर नेशनल मिशन शुरू

नई नेशनल एजुकेशन पॉलिसी की विशेषताएं

  • नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति के अनुसार मानव संसाधन प्रबंधन मंत्रालय अब शिक्षा मंत्रालय के नाम से जाना जाएगा।
  • नेशनल एजुकेशन पॉलिसी के अनुसार शिक्षा का सार्वभौमीकरण किया जाएगार्ड जिसमें मेडिकल और लॉ की पढ़ाई शामिल नहीं की जाएगी।
  • पहले नेशनल एजुकेशन पॉलिसी में10+2 के पैटर्न का पालन किया जाता था लेकिन अब नई शिक्षा नीति के अनुसार 5+3+3+4 के पैटर्न का पालन किया जाएगा। जिसके अंतर्गत 12 साल की स्कूली शिक्षा होगी और 3 साल की प्री स्कूली शिक्षा प्रदान की जाएगी।
  • छठी कक्षा से नई शिक्षा नीति के अनुसार व्यवसायिक परीक्षा इंटर्नशिप आरंभ कर दी जाएगी।
  • पांचवी कक्षा तक इस नई पॉलिसी के अनुसार मातृभाषा या फिर क्षेत्रीय भाषा में प्रदान की जाएगी।
  • पहले नेशनल एजुकेशन पॉलिसी में साइंस, कॉमर्स तथा आर्ट्स स्ट्रीम होती थी लेकिन अब ऐसी कोई स्ट्रीम नहीं होगीर्ड क्योंकि अपनी इच्छा के अनुसार विषय चुन सकेंगे।
  • राष्ट्रीय शिक्षा नीति के अनुसार छात्र फिजिक्स के साथ अकाउंट या फिर आर्ट्स का कोई भी विषय पढ़ सकेगे।
  • छात्रों को नेशनल एजुकेशन पॉलिसी 2023 के अनुसार छठी कक्षा के कोडिंग सिखाई जाएगी।
  • इस नई पॉलिसी के माध्यम से सभी स्कूल डिजिटल इक्विप्ड किए जाएंगे।
  • सभी प्रकार की भाषाओं को क्षेत्रीय भाषा में अनुवाद किया जा सकेगा।
  • लैब में भी परिवर्तन किए जाएंगे।

PM YASASVI Scheme

National Education Policy के लिए रजिस्ट्रेशन करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको नेशनल एजुकेशन पॉलिसी की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा।
नई नेशनल एजुकेशन पॉलिसी
  • होम पेज पर आपको रजिस्ट्रेशन के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा।
रजिस्ट्रेशन नई नेशनल एजुकेशन
  • इस पेज पर आपको पूछी गई सभी जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • जैसे फर्स्ट नेम, मिडिल नेम, लास्ट नेम, जेंडर, डेट ऑफ बर्थ, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी दर्ज करना होगा।
  • सभी जानकारी दर्ज करने के बाद आपको रजिस्टर के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपकी नेशनल एजुकेशन पॉलिसी के लिए रजिस्ट्रेशन करने की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

NEP प्लेटफार्म में लॉगिन करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको प्लेटफार्म की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा।
  • होम पेज पर आपको लॉगइन के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा।
NEP प्लेटफार्म में लॉगिन
  • इस पेज पर आपको सूची की जानकारी जैसे आपका यूजर नेम, पासवर्ड और कैप्चा कोड दर्ज करना होगा।
  • दर्ज करने के बाद आपको लॉगइन के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • इस तरह आप प्लेटफार्म पर लॉगइन कर सकते हैं।

Leave a Comment