मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना: रजिस्ट्रेशन @ msry.jharkhand.gov.in, लाभार्थी सूची

Mukhyamantri Sukhad Rahat Yojana Apply Online @ msry.jharkhand.gov.in,
झारखंड मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना ऑनलाइन पंजीकरण, लाभ एवं पात्रता जाने | Jharkhand Mukhyamantri Sukha Rahat Yojana Registration, eKYC Online

झारखंड में इस साल उम्मीद से कम बारिश हुई है जिसके कारण किसानों को काफी ज्यादा नुकसान का सामना करना पड़ा। ऐसी स्थिति में किसानों को राहत प्रदान करने के लिए हेमंत सरकार ने एक बड़ा फैसला लिया है। झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन जी के द्वारा झारखंड मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना को शुरू किया गया है। राज्य में सूखे के कारण प्रभावित हुए किसान परिवारों को राज्य सरकार द्वारा Mukhyamantri Sukhad Rahat Yojana के तहत 3500 रुपए की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी। कृषि विभाग द्वारा सुखाड़ का आकलन करने पर ज्ञात हुआ है कि राज्य के 22 जिलों के 226 प्रखंड सूखे की चपेट में है। सूखे की इस स्थिति को देखते हुए राज्य सरकार द्वारा किसान परिवारों को मुआवजा राशि प्रदान की जाएगी। आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से झारखंड मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना से संबंधित संपूर्ण जानकारी उपलब्ध कराएंगे ताकि आप भी इस योजना के तहत आवेदन कर लाभ प्राप्त कर सकें।

Jharkhand Mukhymantri Sukhad Rahat Yojana

Table of Contents

Jharkhand Mukhyamantri Sukhad Rahat Yojana 2023

किसानों को सूखे से राहत दिलाने के लिए झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन जी के द्वारा मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना को लागू किया गया है। कृषि विभाग द्वारा सुखाड़ आकलन के अनुसार राज्य के 22 जिलों के 226 प्रखंडों को सरकार द्वारा सूखा घोषित किया गया है। इस योजना के तहत सूखे के कारण किसान परिवारों को फसल खराब होने पर 3500 रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। सभी प्रभावित 226 प्रखंडों के किसान परिवारों को शीघ्र ही Mukhyamantri Sukhad Rahat Yojana के तहत धनराशि उपलब्ध कराई जाएगी। राज्य सरकार द्वारा इस योजना का लाभ लगभग 30 लाख किसानों को दिया जाएगा। मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना के माध्यम से सूखा राहत राशि वितरित करने के लिए गांव और पंचायत स्तर पर शिविर आयोजित किए जाएंगे।  

झारखंड बीज वितरण योजना

मुख्यमंत्री सुखाड राहत योजना राशि प्रदान की गई

29 दिसंबर, 2022 दिन गुरुवार को सरकार के कार्यकाल को 3 वर्ष पूरे होने पर प्रोजेक्ट भवन सभागार में राजकीय समारोह का आयोजन किया गया। कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री जी ने 890 करोड रुपए की धनराशि लाभार्थियों में वितरित की जिसमें से सुखाड राहत योजना के किसान भी शामिल है। राज्य के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन जी ने डीबीटी ट्रांसफर के माध्यम से लाभार्थियों को लाभ राशि पहुंचाई। कार्यक्रम के दौरान मुख्य सचिव सुखदेव सिंह, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव राजीव अरुण एक्का, कार्मिक विभाग की प्रधान सचिव वंदना डाडेल, डीजीपी नीरज सिंह, मुख्यमंत्री के सचिव विनय कुमार चौबे सहित विभागों के सचिव और विभिन्न जिलों के प्रभारी मंत्री उपायुक्त और लाभार्थी ऑनलाइन माध्यम से जुड़े थे।

मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना Key Highlights

योजना का नामMukhyamantri Sukhad Rahat Yojana
शुरू की गईमुख्यमंत्री हेमंत सोरेन जी के द्वारा
उद्देश्यफसल नुकसान होने पर 3500 रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान करना
विभागकृषि विभाग झारखंड
लाभार्थीराज्य के सूखे से प्रभावित किसान परिवार
राज्यझारखंड
साल2023
आवेदन प्रक्रियाऑनलाइन
आधिकारिक वेबसाइटhttps://msry.jharkhand.gov.in/

झारखंड किसान कर्ज माफी लिस्ट

2022 में सूखा प्रभावित जिलों की सूची

सबसे ज्यादा प्रभावितठीक-ठाक प्रभावितबिल्कुल प्रभावित नहीं
कुंती
गढ़वा
पलामू
लातेहार
कोडरमा
हजारीबाग
गिरिध
धनबाद
जामताड़ा
देवगढ़
दुमका
पाकुड़
गोंडा
साहिबगंज
वेस्ट सिंहभूम
सरायकेला खरसावां
रांची
गुमला
लोहरदगा
रामगढ़
बुकारो
छत्रा
ईस्ट सिंहभूम
सिमडेगा

Mukhyamantri Sukhad Rahat Yojana का उद्देश्य

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन जी के द्वारा झारखंड मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य सूखे से प्रभावित हुए राज्य के किसानों को फसल नुकसान होने पर 3500 रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान करना है। इस योजना के तहत राज्य सरकार द्वारा जल्द ही सूखे से प्रभावित किसानों को प्रारंभिक राहत राशि वितरित करने के लिए गांव और पंचायत स्तर पर शिविर का आयोजन किया जाएगा। राज्य के किसानों को सूखा राहत हेतु मुआवजा प्राप्त होगा। Jharkhand Mukhyamantri Sukhad Rahat Yojana के तहत लगभग 30 लाख से अधिक किसान परिवारों को राज्य सरकार द्वारा लाभान्वित किया जाएगा। जिसके लिए राज्य सरकार ने केंद्र सरकार से आर्थिक सहायता भी मांगी है। इस योजना के माध्यम से सूखे के कारण प्रभावित हुए किसानों को कुछ हद तक राहत प्राप्त होगी।

योजना का क्रियान्वयन करने के लिए केंद्र सरकार से मांगी सहायता

झारखंड मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना के संचालन के लिए राज्य सरकार ने केंद्र सरकार से आर्थिक सहायता मांगी है। राज्य सरकार ने जनता को सुखार से राहत देने के लिए केंद्र से 542 करोड़ इनपुट सब्सिडी राहत की मांग की है। मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना के लिए राज्य सरकार ने केंद्र से 9 हजार 139 करोड़ 80 लाख रुपए सुखाड़ राहत के तौर पर 3 महीने के लिए मांगे हैं। जिसके माध्यम से राज्य के राशन कार्ड धारी परिवारों को मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना के तहत लाभ दिया जाएगा। झारखंड सरकार ने केंद्र सरकार को ग्राउंड ट्रुथिंग के आधार पर रिपोर्ट भेजी हैं। और आशा है कि इस संकट की घड़ी में केंद्र सरकार सहयोग करेगी।

झारखण्ड फसल राहत योजना 

हर वर्ग की जरूरत को पूरा करने का किया जाएगा प्रयास

झारखंड मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना के तहत सूखाग्रस्त किसानों को राहत देने के लिए महासचिव विनोद पांडे ने कहा कि राज्य के हर वर्ग की जरूरत को हमारी सरकार द्वारा पूरा करने का प्रयास किया जा रहा है। झारखंड सरकार द्वारा आपके द्वार कार्यक्रम के बाद राज्य सरकार अब किसानों के लिए काम कर रही है। राज्य सरकार द्वारा सूखाग्रस्त प्रखंडों के किसानों को राहत देने का निर्णय लिया गया है। इस योजना के माध्यम से राज्य सरकार किसानों को राहत देने की पूरी कोशिश कर रही है। 

सीएससी को नहीं देने होंगे 40 रूपए

कृषि कृषि मंत्री बादल पत्रलेख ने कहा कि मुख्यमंत्री सूखा राहत योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदनकर्ता को 40 रूपए का शुल्क आवेदन को लेकर सीएससी या प्रज्ञा केंद्र को नहीं देना होगा। क्योंकि इस राशि का भुगतान राज्य सरकार द्वारा किया जाएगा। आपको बता दें कि राहत योजना के आवेदन के लिए किसानों को रजिस्टर्ड करने के लिए 40 रूपए का भुगतान करना पड़ता था।

Mukhyamantri Sukhad Rahat Yojana के लाभ एवं विशेषताएं

  • झारखंड मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना की शुरुआत मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन जी के द्वारा की गई है।
  • इस योजना के तहत 22 जिलों के 226 प्रखंडों के किसान परिवारों को जो सूखे से प्रभावित हुए हैं तत्काल सूखा राहत हेतु 3500 रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।
  • झारखंड मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना के माध्यम से राज्य सरकार किसानों को राहत देने की पूरी कोशिश कर रही है। 
  • मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना के तहत ऐसे किसानों को लाभ प्राप्त होगा जिनकी 33% से ज्यादा फसल की क्षति हुई है या जिन्होंने इस साल बुवाई नहीं की है।
  • किसान परिवारों को फसल के नुकसान होने पर राज्य सरकार द्वारा आर्थिक सहायता के रूप में मुआवजा प्रदान किया जाएगा।
  • मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना के लिए राज्य सरकार ने केंद्र से 9 हजार 139 करोड़ 80 लाख रुपए सुखाड़ राहत के तौर पर 3 महीने के लिए मांगे हैं।
  • जिसके माध्यम से राज्य के राशन कार्ड धारी परिवारों को मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना के तहत लाभ दिया जाएगा।
  • इस योजना के तहत किसान परिवारों को प्रारंभिक राहत राशि वितरित करने के लिए राज्य सरकार द्वारा गांव और पंचायत स्तर पर शिविर का आयोजन किया जाएगा।
  • इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए किसानों को अपना पंजीकरण करवाना होगा।

झारखंड मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना पात्रता

  • Jharkhand Mukhyamantri Sukhad Rahat Yojana के तहत आवेदन करने के लिए आवेदक को झारखंड का स्थाई निवासी होना चाहिए।
  • मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना का लाभ केवल राज्य के किसानों को ही प्राप्त होगा।
  • इस योजना के लिए वही किसान पात्र होंगे जो सूखे से प्रभावित हुए हैं।
  • वे सभी किसान झारखंड मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना के पात्र होंगे जिन्होंने इससे पहले किसी अन्य बीमा योजना का लाभ प्राप्त नही किया है।

Jharkhand Fasal Rahat Yojana eKYC

Mukhyamantri Sukhad Rahat Yojana आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • राशन कार्ड
  • खेत का खाता नंबर
  • खसरा नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नंबर
  • किसान आईडी कार्ड
  • आय प्रमाण पत्र
  • बैंक खाता विवरण
  • निवास प्रमाण पत्र

झारखंड मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना के तहत रजिस्ट्रेशन करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा।
Mukhymantri Sukhad Rahat Yojana
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको पंजीकरण करें के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • क्लिक करते ही आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा।
  • इस पेज पर पर आपको अपना यूजरनेम और ईमेल आईडी दर्ज करनी होगी।
Mukhymantri Sukhad Rahat Yojana
  • इसके बाद आपको दिया गया कैप्चा कोड दर्ज करना होगा।
  • अब आपको SIGN IN के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • इस तरह आप मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना के तहत पंजीकरण कर सकते हैं।

Mukhyamantri Sukhad Rahat Yojana के तहत लॉगइन करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा।
  • होम पेज पर आपको आवेदक लॉग इन करें के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • क्लिक करते ही आपके सामने लॉगइन पेज खुल जाएगा।
मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना
  • अब आपको इस पेज पर अपना मोबाइल नंबर, पासवर्ड एवं कैप्चा कोड दर्ज करना होगा।
  • दर्ज करने के बाद आपको Login के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • इस तरह आप आसानी से मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना के तहत लॉगइन कर सकते हैं।

Sukha Rahat Yojana eKYC कैसे करें

  • सबसे पहले आपको झारखंड फसल राज्य सहायता योजना के अंतर्गत ऑफिशल वेबसाइट पर जाना है
  • वेबसाइट पर जाने के पश्चात आपको होमपेज के ऑप्शन से ekYC के ऑप्शन पर क्लिक करना है
  • इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा
  • यहां पर आपको अपना आधार कार्ड नंबर दर्ज करना है
Mukhyamantri Sukha Rahat Yojana eKYC कैसे करें
  • उसके बाद आपको Proceed to KYC के ऑप्शन पर क्लिक करें
  • अब आपके आधार रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक OTP प्राप्त होगा
  • आपको यह ओटीपी यहां एप्लीकेशन फॉर्म में दर्ज करना है
  • इसके बाद आपको सबमिट का ऑप्शन पर क्लिक कर देना है

Mukhyamantri Sukhad Rahat Yojana Statistics

जिन्होंने इस वर्ष बुवाई नहीं किया है2,71,378
जिनकी फसल क्षति 33% से ज्यादा है 1,86,196
भूमिहीन कृषक मजदूर 6,818
आवेदन का स्रोत MSRY Portal 26,351
आवेदन का स्रोत JRFRSY Portal 4,38,041

संपर्क करें

किसान भाई किसी भी प्रकार की समस्या के निवारण के लिए कॉल सेंटर नंबर 18001801551 पर कॉल कर सकते हैं

Leave a Comment